बक्सर [जेएनएन]। दोनों में सालों से प्रेम प्रसंग चल रहा था, लेकिन घरवाले शादी के लिए राजी नहीं हुए। मां-बाप ने दोनों की शादी कहीं और कर दी। पर प्‍यार जिंदा रहा। सोमवार को दोनों फिर मिले और खौफनाक फैसला कर लिया। पहले मंदिर में पूजा की, फिर चलती ट्रेन के सामने कूदकर जान दे दी। दोनों के शवों के चिथड़े उड़ गए। घटना बिहार के बक्सर जिले में डुमरांव और टुड़ीगंज रेलवे स्टेशन के बीच बीबी गिरी हॉल्‍ट पर हुई।

मृतक प्रेमी गोपाल यादव होमगार्ड का जवान था और बक्सर में ट्रैफिक ड्यूटी पर तैनात था। वह बक्‍सर के गोपाल राजपुर थाना क्षेत्र के उतरी गांव का रहने वाला था। प्रेमिका माया देवी इटाढ़ी थाना क्षेत्र कुकुढा गांव की थी। उसके दो बच्चे भी हैं।

ब्रह्मेश्वरधाम में की भगवान शिव की पूजा

बक्सर-आरा रेल खंड अंतर्गत बीबी गिरी हॉल्ट पर होमगार्ड जवान गोपाल यादव के साथ एक युवती माया देवी की ट्रेन से कटकर मौत हो गई। दोनों सोमवार की सुबह ब्रह्मेश्वरधाम में भगवान शिव की पूजा करने गए थे।

लौटने के क्रम में ट्रेन के सामने कूदे

पटना-वाराणसी पैसेंजर ट्रेन से लौटने के क्रम में बीबी गिरी हाल्ट के पास वे तूफान एक्सप्रेस की चपेट में आ गए। दोनों शादीशुदा थे, लेकिन एक-दूसरे से प्रेम करते थे। प्रथमदृष्‍टया इसे आत्‍महत्‍या माना जा रहा है, लेकिन रेल पुलिस दुर्घटना की संभावना से भी इनकार नहीं कर रही।

हॉल्ट पर मौजूद रेलकर्मी ने घटना की सूचना दानापुर कंट्रोल के साथ बक्सर रेल पुलिस को दी। रेल पुलिस ने बरामद आधार कार्ड से युवक की पहचान की। मौके पर पहुंचे परिजनों ने युवक के साथ युवती की भी पहचान की। परिवार को मंजूरी नहीं था दोनों का प्यार

घटना को लेकर चर्चाओं का बाजार गरम हो गया। दोनों मृतक एक ही गांव के स्वजातीय हैं। उनके बीच प्रेम-प्रसंग चल रहा था, लेकिन दोनों के परिजनों को उनका प्यार स्वीकार नहीं था। बाद में युवती की शादी चौसा में कर दी गई। लेकिन, दोनों को यह मंजूर नहीं हुआ।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Alok