पटना सिटी : अशोक राजपथ पर घनी आबादी के बीच बालू लदे दर्जनों ट्रैक्टर नो इंट्री के दौरान यमदूत बनकर पटना सिटी की सड़कों पर दौड़ रहे हैं। इससे जाम की समस्या गहरा रही है। मुख्य मार्ग पर गिरे बालू पर फिसल कर राहगीर चोटिल हो रहे हैं। हर दिन मुख्य मार्ग पर सफाई के दौरान आधा दर्जन ट्रैक्टर से अधिक बालू निकल रहा है। मजेदार बात यह है कि अशोक राजपथ पर ट्रैक्टर पर मिट्टी लादते व बालू-गिट्टी उतारते देख पुलिस नजर फेर लेती है।

आधा दर्जन लोगों की हो चुकी है मौत

तीन वर्षों मे ट्रैक्टर दुर्घटना में सिटी के आधा दर्जन से अधिक लोगों की मौत हो चुकी है। दर्जनों लोग दुर्घटनाग्रस्त हो अपंग हो गए। अवैध ट्रैक्टर ट्रालियों से शहरी क्षेत्र में दुर्घटना का खतरा और बढ़ गया है।

गीले बालू ढोने वाले ट्रैक्टरों पर लगा है प्रतिबंध

खनन एवं भूतत्व विभाग की समीक्षा बैठक में मुख्यमंत्री ने अवैध खनन पर प्रतिबंध लगा बालू ढो रहे ट्रैक्टरों पर ओवर लोडिग व गीले बालू ढोने वाले ट्रैक्टरों पर प्रतिबंध लगाने के लिए कानूनी कार्रवाई करने की बात कही थी। सीएम ने कहा था कि गीले बालू से सड़कें खराब हो रही हैं। इधर सिटी क्षेत्र में नियमों की अनदेखी की जा रही है। पटना प्रक्षेत्र के आइजी ने भी नो-इंट्री में ट्रैक्टर की इंट्री पर रोक लगाया था।

बाइक सवार व राहगीर हो रहे दुर्घटनाग्रस्त

ऐतिहासिक गुरुद्वारा गुरु का बाग से दो किलोमीटर की परिधि में अशोक राजपथ पर एक दर्जन स्थानों पर बिखरे बालू से बाइक सवार तथा राहगीर दुर्घटनाग्रस्त हो रहे हैं। सुल्तानगंज थाना से दीदारगंज थाना के बीच रविवार को अशोक राजपथ किनारे एक दर्जन स्थानों पर बालू, गिट्टी का ढेर दिखता है।

कृषि से जुड़े ट्रैक्टर से निर्माण सामग्री की हो रही ढुलाई

बिना सुरक्षा मानक के दौड़ रहे ट्रैक्टर व ट्रालियों से दुर्घटनाएं हो रही हैं। सूत्रों की मानें तो बेधड़क दौड़ने वाले कई ट्रैक्टर व ट्रालियों को कृषि उपज ढोने की अनुमति दी गई है। कृषि कार्यों की जगह इनका उपयोग बालू, मिट्टी तथा व्यवसायिक मंडियों में ढोए जाने वाले सामान में किया जा रहा है। इसके अलावा बिना लाइसेंस के 100 से अधिक नाबालिग चालक बालू लदे ट्रैक्टरों को धड़ल्ले से अशोक राजपथ पर चला रहे हैं।

Edited By: Jagran