पटना [जेएनएन]। महिलाओं में कमर दर्द की समस्या एक आम बात है। इसके अलावा शरीर में खून की कमी, कमजोरी, थकावट एव प्रजनन सबधी समस्याएं भी बढ़ रही हैं। ऐसे में महिलाओं को स्वास्थ्य के प्रति जागरूक होने की जरूरत है। मौसम में हो रहे बदलाव भी महिलाओं के स्वास्थ्य को प्रभावित कर रहे हैं। महिलाओं में कमर दर्द का मुख्य कारण कैल्सियम की कमी है। इसके लिए नियमित रूप से दूध का सेवन करना बहुत जरूरी है। जरूरत पड़ने पर महिलाएं कैल्सियम की गोली का सेवन भी कर सकती हैं। उक्त बाते पटना मेडिकल कॉलेज एंड हॉस्पिटल (पीएमसीएच) के महिला एव प्रसूति विभाग के वरिष्ठ चिकित्सक डॉ. चित्रा सिन्हा ने कहीं।

डॉ. चित्रा सिन्हा ने कमर दर्द, शरीर में कमजोरी और थकान के लिए कैल्सियम की कमी को जिम्मेदार माना है।उन्होंने कहा कि कैल्सियम की कमी के कारण ही कमर दर्द होता है। नियमित रूप से दूध और कैल्शियम की दवा का सेवन करने के लिए महिलाओं को सलाह देती है। डॉ. सिन्हा ने कमजोरी के लिए खानपान में सुधार लाने और बी-कॉपलेक्स की भी दवा लेने को कहती है। उन्होंने कहा कि यदि घुटने में दर्द रहता है तो किसी भी मरीज को हड्डी रोग विशेषज्ञ से तुरंत मिलना चाहिए। वैसे लोग जिनका वजन काफी ज्यादा है उन्हें नियमित रूप से व्यायाम जरूर करना चाहिए। भोजन में सब्जी और फल का सेवन करने से काफी फायदा होता है। डॉ. सिंह ने कहा कि यदि आपको सर्दी-जुकाम है तो बिना किसी डॉक्टर के सलाह पर कोई दवा नहीं लेनी चाहिए। डॉ. ने कहा कि सिरदर्द होने पर सबसे पहले उसका कारण जरूरी होता है फिर किसी डॉक्टर की सलाह पर दवा लेनी चाहिए।

Posted By: Jagran