पटना, जेएनएन। चोरों को लगा पटना में होली की खुमारी पुलिस पर छाई है। एेसे में क्यों न हाथ साफ किया जाए। उनका मंसूबा भी कामयाब हुआ। राजधानी के कंकड़बाग और जक्कनपुर थाने की सीमा पर बसे संजय नगर मोहल्ले के रोड नंबर दस में शुक्रवार की रात शातिरों ने जमकर कहर बरपाया। छह घरों से 50 लाख रुपये की संपत्ति पर हाथ साफ कर लिया।

दो घंटे तक आधा दर्जन चोर घरों से सामान समेटकर गाड़ी में रखते गए, लेकिन ना तो मोहल्ले वालों को भनक लगी और ना ही पुलिस का कोई गश्ती दल पहुंचा। शनिवार की सुबह जब लोगों ने घरों के ताले गायब देखे, तब मोहल्ले में हाहाकार मच गया। सूचना पाकर दोनों थानों की पुलिस मौके पर पहुंची। इसी तरह दानापुर के बीबीगंज में बंद घर में छत के सहारे घुसे चोरों ने 95 हजार नगद समेत करीब डेढ़ लाख के जेवरात व बर्तन आदि उड़ा दिए।
 

सीसी फुटेज में दिखे शातिर
चोरों ने सबसे पहले चार मंजिले भवन आरके निवास को निशाना बनाया। यह घर आरा मशीन मालिक राजकुमार शर्मा का है। उनके घर के ठीक सामने वाले मकान में सीसीटीवी कैमरे लगे थे, जिसका फुटेज देखकर पता चला कि इनोवा कार से रात 2:45 बजे चोर आए। नकाबपोश चोर छह की संख्या में थे। दो चोरों ने बड़ी सफाई से आरके निवास के मेन गेट की ग्रिल में हाथ डालकर मास्टर-की से अंदर लगा ताला खोल लिया। इसके बाद एक चोर दाखिल हुआ और मकान के अंदर लगे सीसीटीवी कैमरे को तोड़ दिया। फुटेज में एक चोर लंगड़ा कर चलता दिख रहा है।

घटना के बाद अंदर से बंद कर दी कुंडी
उप सचिव के घर किराएदार सरोज कुमार होली मनाने मुजफ्फरपुर अपने घर गए हुए थे। सुबह मकान मालकिन ने घर का ताला खुला देखकर आवाज लगाई पर दरवाजा नहीं खुला। तब उन्होंने कॉल कर सरोज को जानकारी दी। यहां आने पर मालूम हुआ कि चोरों ने घटना को अंजाम देने के बाद ग्रिल की कुंडी अंदर से बंद कर दी थी। सरोज की पत्नी ने बताया कि दो लाख के गहने, एलईडी टीवी, कीमती कपड़े सहित बच्चे का स्कूल बैग, साइकिल और अनाज की बोरी तक चोर लेकर चले गए।

अक्तसर होती हैं वारदातें
चोरी की इस घटना से स्थानीय लोग काफी आक्रोशित थे। उनका कहना है कि न्यू बाईपास से सटे संजय नगर रोड नंबर दस के दाहिने तरफ का हिस्सा कंकड़बाग और बाईं तरफ जक्कनपुर थाने में आता है। कभी बाइक चोरी तो कभी मोबाइल और चेन स्नैचिंग की वारदातें होती हैं। शिकायत करने के बावजूद थाने की पुलिस इस इलाके में गश्ती नहीं करती।

हीरे और सोने के जेवरात पर किया हाथ साफ
सिविल इंजीनियर शैलेंद्र कुमार बख्तियारपुर गए थे। यहां उनकी बेटी प्रो. सुरुचि कुमारी रुकी हुई थी। वह शुक्रवार की रात सोने के लिए पड़ोस में बुआ के घर चली गई। शैलेंद्र की बहन के घर सात अप्रैल को शादी है। चोर यहां से सुरुचि के सोने व हीरे के गहने, 80 हजार नकद और शादी के लिए रखे कीमती सामान उड़ा ले गए। चोरी गई कुल संपत्ति की अनुमानित कीमत 15 लाख रुपये से अधिक है।

किराएदारों के घरों को चोरों ने बनाया निशाना
आरके निवास में प्रो. सुनील कुमार, निजी कंपनी में मैनेजर सुमित कुमार मिश्र और व्यवसायी सुभाष चंद्र बोस अपने-अपने परिवार के साथ किराए पर रहते हैं। मकान से 10 कदम की दूरी पर सड़क के उस पार बिहार विधान परिषद के उप सचिव विनोद शंकर प्रसाद का मकान है। यहां निचले तल पर रहने वाले सरोज कुमार और फिर इंजीनियर मनोज कुमार के किराएदार शैलेंद्र और गुलशन के फ्लैटों को निशाना बनाया।सीसीटीवी कैमरे की फुटेज में चोरी के सामान के साथ दिखे चोर।


दानापुर में लाखों की चोरी
थाना क्षेत्र के बीबीगंज में बंद घर में छत के सहारे घुसे चोरों ने 95 हजार नगद समेत करीब डेढ़ लाख के जेवरात व बर्तन आदि ले भागे। इस बाबत गृहस्वामी ने लिखित शिकायत दर्ज कराई है। सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की छानबीन में लगी है। बताया जाता है कि बीबीगंज निवासी गौतम केशरी शुक्रवार की सुबह परिवार के साथ घर में ताला बंद कर पटना गये थे। रात करीब आठ बजे घर लौटे तो गोदरेज का ताला टूटा था। कमरे में सारा सामान बिखरा था। गृहस्वामी ने बताया कि गोदरेज में 95 हजार रुपये व करीब डेढ़ लाख के जेवरात रखे थे, जो गायब हैं। इसके साथ ही बोरे में रखा पीतल का बर्तन भी गायब है। उन्होंने बताया कि सुबह परिवार के साथ पटना के लिए निकले थे, रात को आ गये। इसी बीच घटना को अंजाम दिया गया।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप