पटना। केन्द्रीय राज्य मंत्री व रालोसपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष उपेन्द्र कुशवाहा ने कहा है कि नीतीश सरकार की संवेदनहीनता की वजह से बिहटा में मुआवजे की मांग को लेकर आंदोलनरत किसान कौशल किशोर सिंह की जान चली गई। राज्य सरकार और प्रशासन ने सुध ली होती तो किसान की मृत्यु नहीं होती। इससे स्पष्ट हो जाता है कि राज्य सरकार किसान विरोधी है।

उन्होंने राज्य सरकार से मृतक किसान के परिजनों को पचास लाख और आश्रित को नौकरी देने की मांग की है। उधर, पार्टी का एक ग्यारह सदस्यीय शिष्टमंडल नौबतपुर के चेचौल गांव में पिछले दिनों कर्ज के कारण आत्महत्या करने वाले किसान के परिजनों से मिला। शिष्टमंडल ने घटना के लिए राज्य सरकार को जिम्मेदार ठहराते हुए मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से इस्तीफे की मांग की। पार्टी ने मृतक के आश्रित को सरकारी नौकरी देने, 10 लाख रुपये मुआवजा और जीवन व मौत से जूझ रही मृतक की पत्नी का इलाज सरकारी खर्च पर कराने की मांग की।

Posted By: pradeep Kumar Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस