पटना। पटना जिले में गंगा पर एक और नए पुल के निर्माण की विस्तृत परियोजना रिपोर्ट (डीपीआर) तैयार हो गयी है। मोकामा के औटा से सिमरिया के बीच बनने वाले इस फोर लेन पुल की लागत 715 करोड़ है। अब सड़क परिवहन एवं राजमार्ग मंत्रालय इसकी निविदा करेगा। एनएचएआई के क्षेत्रीय कार्यालय से मिली जानकारी के अनुसार पिछले हफ्ते डीपीआर भेज दिया गया। यह मोकामा में प्रस्तावित रेल सह सड़क पुल से अलग प्रोजेक्ट है।

बख्तियारपुर-खगड़िया रोड प्रोजेक्ट का हिस्सा

राजेंद्र सेतु के समानांतर गंगा नदी पर बनने वाला यह पुल बख्तियारपुर-खगड़िया फोरलेन प्रोजेक्ट का हिस्सा है। यह तीन पैकेज में यह बनना है। पहला पैकेज बख्तियारपुर से मोकामा टाल होते हुए औटा तक सड़क, दूसरे में औटा से सिमरिया तक गंगा नदी में पुल और तीसरे पैकेज में सिमरिया से खगड़िया तक सड़क है।

पुल प्रोजेक्ट मे एक आरओबी भी

औटा से सिमरिया के बीच जो फोरलेन पुल बनाया जाना है वह एप्रोच रोड सहित 6.7 किमी का है। इसमें औटा साइड से एक आरओबी भी है।

सिमरिया-खगड़िया फोर लेन सड़क को मिली तारीख

सिमरिया से खगड़िया के बीच 60 किमी फोरलेन सड़क की निविदा की प्रक्रिया को कुछ दिन पहले पूरा कर लिया गया था। देश की अग्रणी निर्माण कंपनी के पास इस प्रोजेक्ट का काम है। इस प्रोजेक्ट का अपडेट यह है कि पिछले महीने इसे प्रोजेक्ट के लिए नियुक्त होने की तारीख मिल गयी।

गंगा पर पुल

कोइलवर से मोकामा के बीच गंगा नदी पर कई नए पुल बन रहे हैं। इसके तहत आरा के बबूरा से छपरा के डोरीगंज के बीच बन रहा पुल, पटना में दीघा-सोनपुर के बीच बन रहा सड़क पुल, गांधी सेतु के समानांतर बन रहा छह लेन का पुल, कच्चीदरगाह-बिदुपुर के बीच छह लेन पुल व ताजपुर-बख्तियारपुर के बीच बन रहा पुल शामिल है।