देसरी (वैशाली), संवाद सूत्र। कुत्‍ते का रोना अपशकुन माना जाता है। ऐसे में सड़क पर गिरे खून के पास रो रहे एक पालतु कुत्‍ते को देख लोगों को अनहोनी का भय सता रहा है। मामला वैशाली जिले के देसरी थाना के चांदपुरा ओपी क्षेत्र स्थित माधोपुर गांव का है। यहां सड़क पर काफी मात्रा में गिरे खून के पास बैठकर एक पालतू जख्मी कुत्ते (Injured Pet Dog) के रोने की घटना की इलाके में काफी चर्चा  हो रही है। कुत्ता पालतू है और वह खुद भी जख्मी है। कुत्ते के वहां बैठकर रोने की घटना को लेकर देखने के लिए काफी संख्या में स्थानीय लोग मौके पर जुट गए। जख्‍मी कुत्‍ते का इलाज एक पशु चिकित्सक अपने क्लिनिक पर लाकर कर रहे हैं।
अच्‍छी नस्‍ल का है पालतु कुत्‍ता   
इस घटना के बाद से लोगों में तरह-तरह की चर्चा हो रही है। किसी का कहना है कि संभवत: उसका मालिक यहां किसी हादसे का शिकार हो गया होगा। कोई हत्‍या की आशंका जता रहा है।  कुत्ते को देखने से लगता है वह अच्छे नस्ल का पालतू है। उसे रखना आम आदमी के वश का नहीं है। यदि यह कुत्ता आस पास के इलाके का रहता तो पता चल जाता कि किसका है ? इस तरह सड़क पर गिरे खून के पास बैठकर जख्मी कुत्ते के रोने की घटना कई सवाल पैदा करता है। लोगों को अनहोनी का भय भी हो रहा है। 
अनहोनी की संभावना से भी पुलिस का इंकार नहीं 
वहीं इस संबंध में पुलिस का कहना है कि कुत्ता बीमार लग रहा है और ऐसा लगता है कि कुत्ता के पालने वाले ही उसे यहां पर लाकर छोड़ गए हैं। जो खून गिरा हुआ है वह कुत्ता का ही हो सकता है। हालांकि पुलिस का यह भी कहना है कि वह किसी अनहोनी से इंकार नहीं कर रही है। पुलिस मामले की गहन जांच कर रही है।

 

Edited By: Vyas Chandra