पटना [जेएनएन]। मौसम बदल रहा है। अब देश में अच्छे मौसम आनेवाले हैं। ये बातें बिहार के नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने कहीं. वे महागठबंधन की बैठक में शामिल होने के दौरान पत्रकारों के सवालों का जवाब दे रहे थे। उन्होंने महागठबंधन में आने के लिए उपेंद्र कुशवाहा का स्वागत किया। बता दें कि इसके पहले वे कई बार उपेंद्र कुशवाहा को महागठबंधन में शामिल होने का आॅफर दे चुके थे। 

बाद में तेजस्वी यादव ने इसे ट्वीट भी किया। उन्होंने कहा कि ये जनता के दिलों का गठबंधन है। उन्होंने यह भी कहा कि बिहार में महागठबंधन परिवार बढ़ रहा है। यह मुद्दों का गठबंधन है। किसानों और नौजवानों से ‘नए करार’ का गठबंधन है। यह सामाजिक न्याय के प्रति नई प्रतिबद्धता का गठबंधन है।  

उन्होंने कहा कि भीड़तंत्र और तानाशाही के खिलाफ ये जनता के लिए जनता का गठबंधन है। बिहार में महागठबंधन दलितों, पिछड़ों, अल्पसंख्यकों और प्रगतिशील लोगों का मनुवादियों के खिलाफ 'हल्ला बोल' गठबंधन है। 

अपने ट्वीट में तेजस्वी यहीं पर नहीं रुके। उन्होंने केंद्र सरकार पर कटाक्ष करते हुए कहा कि आरबीआइ, सीबीआइ, इडी और दूसरी संवैधानिक संस्थाओं का बैंड बजाने वाली फासीवादी ताकतों के खिलाफ ‘न्यायप्रिय ताक़तों’ का लोकप्रिय गठबंधन है. जय बहुजन, जय हिंद। 

इसके बाद अपने दूसरे ट्वीट में उन्होंने कहा कि हमारा मकसद बिहार को आगे बढ़ाना है। बिहार तरक्की नहीं करेगा, तो देश तरक्की नहीं करेगा। उन्होंने सवाल दागा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बिहार की बोली लगाई, लेकिन मिला कितना? उन्होंने सीएम पर तंज कसते हुए कहा कि नीतीश जी बताएं 1.25 लाख करोड़ में मोदी जी ने कितना दिया? 

नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी ने कहा कि देश में अघोषित इमरजेंसी है। संविधान बचाने की लड़ाई है। संविधान पर खतरा है। उन्होंने केंद्र और बिहार सरकार को घेरते हुए कहा 'हम देश और संविधान को बचाने के लिए एकजुट हुए हैं। हम आज जनता को गुमराह करने वालों के खिलाफ एकजुट हुए हैं। मोदी सरकार ने बिहार की जनता के साथ धोखा किया है। सीएम नीतीश कुमार ने सीएम नीतीश कुमार ने जनादेश का अपमान किया है। 

गौरतलब है कि गुरुवार को दिल्ली में कांग्रेस कार्यालय में बिहार महागठबंधन के नेता जुटे। इस दौरान कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल ने उपेंद्र कुशवाहा की पार्टी आरएलएसपी के यूपीए में शामिल होने की घोषणा की। मौके पर कांग्रेस के बिहार प्रभारी शक्ति सिंह गोहिल, हिंदुस्तानी अवामी मोर्चा (हम) के अध्यक्ष जीतनराम मांझी, लोजद सुप्रीमो शरद यादव मौजूद भी मौजूद रहे।

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप