पटना, स्‍टेट ब्‍यूरो/ बिहार ऑनलाइन डेस्‍क। Bihar CoronaVirus Vaccination Update कोरोना वैक्सीन (CoronaVirus Vaccine) लगवाने के मसले पर बिहार के राजनीतिक गलियारे में तरह-तरह की बयानबाजी जारी है। राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) के विधायकों के अजब-गजब बोल (Azab Gazab Statements) सामने आ रहे हैं। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Leader of Opposition Tejashwi Yadav) की अभी उम्र नहीं है तो बाकी कई विधायकों को टीके के साइड इफेक्ट (Side Effects) का इंतजार है। उनका कहना है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) और मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) पर वैक्‍सीन का असर देख लेंगे तभी खुद लगवाएंगे।

अभी दूर नहीं हुआ आरजेडी विधायकों का डर

बिहार विधानसभा अध्यक्ष विजय कुमार सिन्हा ने विधायकों से कोराना का वैक्‍सीनेशन कराने की अपील कर रखी है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्‍यमंत्री तारकिशोर प्रसाद एवं रेणु देवी समेत सत्ता पक्ष के कई विधायकों एवं वरिष्ठ नेताओं ने मंगलवार को ही टीका लगवा लिया। परंतु आरजेडी के विधायकों का डर अभी दूर नहीं हुआ है।

तेजस्‍वी के वैक्‍सीनेशन में उम्र बन रही बाधा

वैक्‍सीन नहीं लेने को लेकर तेजस्‍वी यादव ने भी कहा है कि अभी दूसरे चरण में 50 साल की उम्र पार या बीमार लोगों का वैक्‍सीनेशन किया जाना है। ऐसे में 50 साल के विधायकों को ही वैक्‍सीन लेना है। वैक्‍सीनेशन के दूसरे चरण में अभी मेरी वैक्‍सीन लेने की उम्र नहीं हुई है।

आरजेडी विधायकों ने रखीं हैं अजब-गजब शर्तें

विधानसभा परिसर में बुधवार को आरजेडी विधायक रामानुज प्रसाद, भाई वीरेंद्र एवं रामबली यादव समेत कुछ विधायकों ने अजीब तरह की शर्तें रखी हैं। उनका कहना है कि पहले वे सीएम एवं डिप्टी सीएम पर वैक्‍सीन का असर देखेंगे कि कहीं उन्हें कोई दिक्कत तो नहीं हो रही है। इसके लिए उन्हें कम से कम 48 घंटे की और मोहलत चाहिए। मुख्यमंत्री ने एक दिन पहले वैक्‍सीन लगवाया है। आरजेडी विधायक रामबली यादव की बात भी जान लीजिए। वे कहते हैं कि बड़े-बड़े अधिकारी और नेता खुद वैक्‍सीन लेने से पहले अपने ड्राइवर और सुरक्षा कर्मी पर वैक्‍सीन का असर देख रहे थे तो हम भी सत्ताधारी दल के नेताओं पर असर देख लें। आरजेडी के विधायक अनिरुद्ध यादव तर्क देते हैं कि जब उनके विधानसभा क्षेत्र बखितयारपुर में किसी को भी कोरोना संक्रमण नहीं हुआ है तो वे वैक्‍सीन क्यों लें?

आरजेडी नेता वैक्‍सीन पर ही उठा चुके हैं सवाल

इसके पहले आरजेडी के वरिष्ठ नेता एवं विधायक भाई वीरेंद्र वैक्‍सीन पर ही सवाल उठा चुके हैं। उन्होंने शक जाहिर किया था कि हो सकता है कि पीएम और सीएम ने अपने लिए अलग वैक्‍सीन की व्यवस्था की हो और विपक्ष के लोगों के लिए अलग तरह के हों।

जब गरीबों को वैक्‍सीन दिया जाएगा, ले लेंगे

कांग्रेस के विधायक मुरारी गौतम को वैक्‍सीन लेने का वक्त ही नहीं मिल सका है। जब वक्‍त मिलेगा, ले लेंगे। भारतीय कम्‍युनिस्‍ट पार्टी ( माले) के विधायक सत्यदेव राम की बात भी जानिए। वे कहते हैं कि यह वैक्‍सीन अमीरों के लिए बनाया गया है। जब गरीबों को वैक्‍सीन दिया जाएगा, वे भी ले लेंगे।

वैक्‍सीनेशन को ले नहीं होनी चाहिए राजनीति

कोरोना वैक्‍सीनेशन को लेकर अजब-गजब बयानों पर सत्‍ताधारी दल से भी प्रतिक्रियाएं भी मिली है। पूर्व उपमुख्यमंत्री व भारतीय जनता पार्टी सांसद सुशील मोदी (BJP PM Sushil Modi) ने कहा कि कोरोना वैक्‍सीनेशन को विपक्ष राजनीति से ऊपर रखे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी का अनुसरण करते हुए वैक्‍सीन लेने की बात करते हुए कहा कि इसमें न कोई तकलीफ होती है, न बाद में कोई परेशानी। राबड़ी देवी (Rabri Devi) सहित सभी दलों के सीनियर खुद पहल कर कोरोना की वैक्‍सीन लें। जनता दल यूनाइटेड (JDU) के नेता महेश्वर हजारी भी कहते हैं कि देश के वैज्ञानिकों ने स्वदेशी तकनीक से वैक्‍सीन बनाया है। वैक्‍सीनेशन को लेकर राजनीति नहीं की जानी चाहिए।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021