ऑनलाइन डेस्क, पटना। चारा घोटाले के मामले में 23 दिसंबर 2017 से जेल में बंद लालू यादव को शनिवार को रांची हाईकोर्ट ने जमानत दे दी। आधी सजा पूरी होने पर लालू को दुमका कोषागार से अवैध निकासी के मामले में जमानत दी गई है। जमानत मिलने के बाद अब लालू की जेल से बाहर आने की प्रक्रिया शुरू होगी। हालांकि लालू अभी इलाज के लिए एम्स में भर्ती हैं, इसलिए तुरंत पटना तो नहीं आएंगे लेकिन एम्स में अब कैदी की तरह इलाज नहीं होगा। लालू यादव के जेल में बाहर आने पर राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के साथ तेजस्वी यादव और तेजप्रताप भी मजबूत होंगे। 

परिवार को साथ होंगे पिताः मीसा

पिता को जमानत मिलने पर लालू यादव की बड़ी बेटी मीसा भारती ने कहा कि मुझे उम्मीद है कि पापा जल्द ही पूरे परिवार के साथ होंगे। मीसा ने कहा कि मैं पिता से मिलने दिल्ली एम्स जा रही हूं। अब उनके जेल से निकलने का रास्ता साफ हो गया है। लालू यादव को दुमका कोषागार से अवैध निकासी के तीसरे मामले में जमानत मिलने से राजद में जश्न का माहौल। कोरोना के चलते प्रदेश मुख्यालय बंद है, लेकिन कार्यकर्ता अपने स्तर से जो जहां है वहीं जश्न मना रहा है। 

राजद ने जश्न न मनाने की अपील की

लालू की जमानत की खबर सुनते ही राबड़ी आवास पर राजद के नेता और कार्यकर्ता जुटने लगे हैं। विधायक तेजप्रताप यादव पहले ही अपने सरकारी आवास से राबड़ी देवी के आवास आ चुके हैं। इस बीच राजद के आधिकारिक ट्विटर अकाउंट से कहा गया है, 'आपसे विशेष आग्रह है कि पटना स्थित आवास पर किसी भी प्रकार की कोई भीड़ जमा नहीं करें। नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव कोरोना गाइड लाइनस के चलते विगत कई दिनों से मुलाक़ातियों से नहीं मिल रहे हैं। सम्मानित शुभचिंतकों, समर्थकों और कार्यकर्ताओं से प्रार्थना है कि सभी कोरोना महामारी के प्रोटोकॉल का पालन करते हुए अपने-अपने घरों में ही रहें। किसी प्रकार का कोई भी जश्न नहीं मनाएं'।

Edited By: Akshay Pandey