पटना, स्‍टेट ब्‍यूरो। अपनी 'बेरोजगारी हटाओ यात्रा' की शुरुआत करते हुए राष्‍ट्रीय जनता दल नेता व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव ने रविवार को पटना में चुनावी वादों की झड़ी लगा दी। केंद्र और राज्य सरकारों पर हमले जारी रखे और सत्ता पक्ष द्वारा उठाए जा रहे 15 साल बनाम 15 साल के सवालों का सिलसिलेवार जवाब दिया। कहा कि अगर उनकी सरकार बनी तो डोमेसाइल कानून लागू कर नौकरियों में बिहारी युवाओं को 85 फीसद आरक्षण देंगे। उधर, तेज प्रताप यादव ने अपने अंदाज में कहा कि अगर तेजस्‍वी की सरकार बनी तो वे मुरली बजाएंगे।

तेजस्‍वी ने लालू-राबड़ी सरकार के समय की चूक को बड़ी सहजता से स्वीकार किया और कहा कि कुछ गलतियां हो सकती हैं। किंतु अब नया जमाना है और हमें नया बिहार बनाना है।

बेरोजगारी दूर करें या बेरोजगारी हटाओ यात्रा का समर्थन करें नीतीश

रविवार को वेटनरी कालेज में आयोजित सभा में तेजस्वी यादव ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार से कहा कि वे बेरोजगारी दूर करें या आरजेडी की बेरोजगारी हटाओ यात्रा का समर्थन करें। अगर नीतीश कुमार युवकों को रोजगार दे दें तो वे अपनी यात्रा को रोक सकते हैं। तेजस्वी ने सरकार में आने पर बेरोजगारी दूर करने के उपाय बताते हुए कहा कि प्रदेश में डोमिसाइल नीति लागू करेंगे। 85 फीसद नौकरियां बिहारियों के लिए आरक्षित होंगी।

महागठबंधन में सहयोगी कांग्रेस को भी निशाने पर लिया

परोक्ष तौर पर तेजस्वी ने अपने सहयोगी कांग्रेस को भी निशाने पर लिया और कहा कि 1990 में लालू प्रसाद यादव ने जब सत्ता संभाली थी, तब गांधी मैदान और स्टेशन तक गिरवी थे। फिर भी संयुक्त बिहार में सात नए विश्वविद्यालय खोले गए। कई नए जिले बने। सड़कों-पुलों के साथ-साथ लाखों नौकरियां दी गईं। 2005 में बिहार के प्रत्येक व्यक्ति पर मात्र पांच हजार रुपये का कर्ज था, जो अब बढ़कर एक लाख 35 हजार हो गया है।

लालू के रहते लागू नहीं होंगे सीएए, एनआरसी व एनपीआर

तेजस्वी यादव ने कहा कि लालू प्रसाद यादव के जिंदा रहते राष्‍ट्रीय जनसंख्‍या रजिस्‍टर (एनपीआर), राष्‍ट्रीय नागरिक रजिस्‍टर (एनआरसी) और नागरकता संशोधन कानून (सीएए) जैसे कानून बिहार की धरती पर लागू नहीं हो सकते हैं। यह सब अहम मसलों से जनता का ध्यान हटाने के लिए लाए गए हैं। तेजस्वी ने बिहार में बेरोजगारी के आंकड़े भी दिए और कहा कि 45 वर्षों में सबसे अधिक 11.47 फीसद बेरोजगारी दर है।

तेजस्वी की सरकार बनेगी तो मुरली बजाऊंगा : तेज प्रताप

इस अवसर पर तेज प्रताप यादव ने खुद को अपने छोटे भाई तेजस्वी का सारथी बताया और उन्हीं से पूछकर मंच से शंख भी बजाया। आरजेडी के उत्साहित कार्यकर्ताओं से वादा किया कि अभी शंख बजा रहा हूं और जब तेजस्वी की सरकार बनेगी तो मुरली बजाऊंगा।

तेज प्रताप ने खुद को बताया असली लालू, कहा- सब पीछे पड़े हैं

तेज प्रताप ने खुद को असली लालू बताया और कहा कि इसीलिए सब मेरे पीछे पड़े हैं। पारिवारिक विवाद से इन्कार करते हुए तेज प्रताप ने कहा कि वह अपने भाई के लिए खून भी दे सकते हैं। उन्होंने कहा कि उन्हें किसी से डर नहीं लगता है। अगर किसी में हिम्मत है तो तेजस्वी का रथ रोककर दिखा दे। वे सिर्फ अपने पिता से और उसके बाद जगदानंद सिंह के अनुशासन से डरते हैं।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस