पटना [जेएनएन]। लोकसभा चुनाव में बिहार में विपक्षी महागठबंधन की हार के बाद इसके लिए आरोप-प्रत्‍यारोप का दौर शुरू है। राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) विधायक महेश्वर यादव द्वारा इस हार के लिए पार्टी नेता तेजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) को जिम्‍मेदार बताते हुए उनसे नेता प्रतिपक्ष के पद से इस्‍तीफा मांगने के बाद अब तेजस्‍वी के समर्थन में हिंदुस्‍तानी अवाम मोर्चा (HAM) सुप्रीमो जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) उतर आए हैं। उन्‍होंने कहा है कि तेजस्वी ने काफी मेहनत की। हां, कुछ कमियां रह गईं, जिस कारण महागठबंधन की हार हुई। उन्‍होंने तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) को हार का कारण मानने से इनकार करते हुए कहा कि उनका जनता में कोई प्रभाव नहीं है।

तेजस्‍वी के समर्थन में कही ये बात
जीतनराम मांझी ने कहा कि महागठबंधन का आकार-प्रकार बनाने में विलंब हुआ। इस कारण चुनाव की तैयारी के लिए समय कम मिला। जहां तक तेजस्‍वी यादव का सवाल है, उन्‍होंने चुनाव के लिए बहुत मेहनत की। हां, कुछ कमियां रह गईं।

लालू परिवार के झगड़े को नहीं माना जिम्‍मेदार
मांझी ने हार के लिए लालू परिवार के झगड़े को जिम्‍मेदार मानने से इनकार कर दिया। उन्‍होंने कहा कि हर परिवार में कुछ न कुछ परेशानी होती है। यह लालू परिवार का निजी मामला है।

बोले: जनता में तेज प्रताप का कोई प्रभाव नहीं
मांझी ने कहा कि तेज प्रताप के कारण लोकसभा चुनाव में कोई महागठबंधन को कोई परेशानी नहीं हुई। जनता में तेज प्रताप का कोई प्रभाव नहीं है।

बताया, इस कारण खराब हुई लालू की तबीयत
मांझी ने लालू की तबीयत खराब होने के कारणों पर बाेलते हुए बताया कि उनके कमरे में एसी नहीं चल रहा था। बिजली नहीं रहने से परेशानी हुई। थी। मांझी ने कहा कि लालू के साथ अन्याय हुआ है। अगर प्रज्ञा ठाकुर और जगन्नाथ मिश्रा को जमानत मिल सकती है तो लालू को क्यों नहीं?

हार की समीक्षा के बाद ही रखेंगे अपनी राय
हार के बाद महागठबंधन के अंदर से आने वाले बयानों पर मांझी ने कहा कि अभी व्यक्तिगत बयान आ रहे हैं। लेकिन हम इस मामले में हार की समीक्षा के बाद ही कुछ बोलना उचित होगा। 

आरजेडी विधायक ने तेजस्‍वी ने मांगा इस्‍तीफा
विदित हो कि इसके पहले पटना में प्रेस कांफ्रेंस कर आरजेडी विधायक महेश्वर यादव ने कहा कि वे पार्टी में परिवारवाद के खिलाफ हैं। उन्‍होंने कहा है कि लालू प्रसाद ने पार्टी के वरिष्ठ नेताओं को दरकिनार कर नेता प्रतिपक्ष की कुर्सी पर बेटे तेजस्वी यादव को बैठा दिया। इसका परिणाम यह हुआ कि सभी लोकसभा सीटें हाथ से निकल गईं।
उन्होंने कहा कि परिवारवाद पर चलने वाली कांग्रेस ने सबक ली है। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने पद से इस्तीफे की पेशकश की है। लेकिन राजद जनादेश का अपमान कर रहा है। महेश्‍वर यादव ने बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष पद से तेजस्वी के इस्तीफे की मांग रखी है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Amit Alok