style="text-align: justify;"> पटना [जेएनएन]। उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने सोमवार की ट्वीट कर राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की पत्‍नी व पूर्व मुख्‍यमंत्री राबड़ी देवी पर जमकर निशाना साधा। उन्‍होंने लिखा कि बेनामी संपत्ति के कारण गरीबों का भरोसा टूटने पर सुरक्षा के मुद्दे को तूल दिया जा रहा है। सुशील मोदी ने लालू प्रसाद पर बालू माफिया को संरक्षण देने का भी आरोप लगाया।
अपने ट्वीट में सुशील मोदी ने लिखा कि एक तरफ राबड़ी देवी अपने और परिवार के लिए भारी-भरकम सुरक्षा सुनिश्चित करने के लिए रोज मुख्यमंत्री को पत्र लिखती हैं तो दूसरी तरफ दावा करती हैं कि वे लोगों के बीच रहती हैं, घर के दरवाजे रात में भी खुले रहते हैं और सुरक्षा के लिए तो उनके समर्थक ही काफी हैं। बेनामी संपत्ति के कारण गरीबों का भरोसा टूटने पर सुरक्षा-मुद्दे को तूल दिया जा रहा है।

अगले ट्वीट में सुशील मोदी ने लिखा कि आयकर जांच से साफ है कि बालू के अवैध खनन, कालाबाजारी और काले धन को सफेद करने का धंधा किनके राजनीतिक संरक्षण में चल रहा था। बालू के धंधे से जुड़ी ब्राडसन कंपनी के मालिक सुभाष यादव ने राबड़ी देवी के तीन फ्लैट खरीदे और लालू प्रसाद को 25 लाख रुपये कर्ज दिए। कुछ लोग पिछड़ों-वंचितों को धोखा देकर बालू से तेल निकालने में माहिर हो गए।

अन्य ट्वीट में लिखा है कि एनडीए सरकार ने चार साल में वंचित वर्ग के 5.7 करोड़ छात्रों को 15,918 करोड़ रुपये की छात्रवृत्ति सहायता प्रदान की। अब छात्रावासों में रहने वाले अनुसूचित जाति, पिछड़ा और अतिपिछड़ा समुदाय के हर छात्र को बीपीएल दर पर महीने में 15 किलो अनाज भी दिया जाएगा। लाठी में तेल पिलाने वालों ने वंचित वर्ग के शैक्षणिक विकास के लिए कोई काम नहीं किया।

Posted By: Amit Alok