पटना [राज्य ब्यूरो]। बिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट कर रविवार को कहा कि 25 साल पुराने वामपंथी गढ़ त्रिपुरा में 43 फीसद वोट के साथ 60 सदस्यीय विधानसभा की अकेले 35 सीटें जीत कर सरकार बनाने जा रही भाजपा और इसके सहयोगी दलों की सफलता बेहद मायने रखती है।

सुशील मोदी ने कहा कि यह सफलता बिहार एवं उत्तर प्रदेश के उपचुनाव से होते हुए कर्नाटक भी पहुंचेगी। पूर्वोत्तर के चुनाव परिणाम राजद-कांग्रेस के साझा दुष्प्रचार और सम्पत्ति बचाओ यात्राओं पर करारा तमाचा है। अब जेल से लालू प्रसाद की आवाज नहीं आई और राहुल गांधी को नानी याद आ गईं।

उन्होंने कहा कि जो लोग जेएनयू में भारत विरोधी नारे लगाने वालों के साथ खड़े थे, उन्हें पूर्वोत्तर, खास कर त्रिपुरा के देशभक्त मतदाताओं ने सत्ता से उखाड़ फेंका। बिहार एवं बंगाल से तो वे पहले ही उखड़ चुके थे, अब केरल से भी जाने की तैयारी है। गरीबों-किसानों के नाम पर धोखा देने वालों के दिन लद गए। विकास के एजेंडे से सरकार को विचलित करने की कोशिश कभी कामयाब नहीं होगी।

Posted By: Ravi Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस