पटना [राज्य ब्यूरो]। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि सृजन घोटाले के आरोपी किसी भी कीमत पर बख्शे नहीं जाएंगे। जांच निष्पक्ष ढंग से चल रही है एवं इसमें सरकार का कोई हस्तक्षेप नहीं है। आज लालू यादव अपनी करनी का फल भुगत रहे हैं। बिहार विनियोग संख्या दो विधेयक पर चर्चा के दौरान उन्होंने कहा कि घोटाले के आरोपी पकड़े भी गए हैं। विपक्ष के बहिष्कार के बीच विधेयक पारित हुआ। 

उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का किसी भी घोटाले में नाम तक नहीं है। विपक्ष बेवजह हंगामा कर रहा है। राजद के सुप्रीमो लालू प्रसाद अपनी करनी के कारण जेल में हैं। उनको फंसाने में राज्य सरकार की कोई भूमिका नहीं है। चारा घोटाले के आरोप में लालू सजा भुगत रहे हैं।

लालू ने पद का दुरुपयोग करते पशुपालन विभाग को आवंटित राशि से ढाई से तीन गुणा अधिक निकासी कर ली। सरकार सबका साथ सबका विकास के तहत काम कर रही है। किसी प्रकार की शिकायत मिलने पर तत्काल कार्रवाई की जाएगी। विपक्ष के पास कोई मुद्दा नहीं है, इसलिए यह सदन की कार्यवाही में शामिल नहीं होता है।

इससे पहले परिषद की प्रथम पाली में सुबोध राय के भागलपुर जिला के खैरेह पहाड़ को खोदकर एक व्यक्ति द्वारा घर एवं शो रूम खोलने का मामला उठाया। साथ ही बताया कि पत्थर माफिया द्वारा पहाड़ को खोदकर मोरंग की बिक्री की जा रही है।

मोदी ने कहा कि भागलपुर के क्षेत्रीय मुख्य वन संरक्षक द्वारा वन प्रमंडल पदाधिकारी और वन कर्मियों के साथ 25 मार्च को निरीक्षण किया गया। पहाड़ी की तलहटी एवं सड़क किनारे ग्रामीणों द्वारा कुछ झोपडिय़ां और पक्के मकान निर्मित पाए गए। इनमें से कुछ झोपडिय़ां एवं पक्के मकान वन सीमा के अंदर पाए गए हैं। इससे संबंधित ग्रामीण एवं मकान मालिकों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया गया है।

किसी व्यक्ति द्वारा उक्त क्षेत्र में अतिक्रमण कर निजी व्यावसायिक प्रतिष्ठान चलाये जाने का कोई प्रमाण नहीं पाया गया है। इसके बावजूद अगर सदस्य के पास जानकारी है तो उस प्रतिष्ठान की फोटोग्राफी करके उपलब्ध कराए। तत्काल कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Ravi Ranjan