पटना [राज्य ब्यूरो]। उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने कहा कि जिस कांग्रेस ने 1950 से 1977 तक 27 साल में देश के संविधान को 42 बार बदला और इसकी मूल भावनाओं से छेड़छाड़ की, उसके अध्यक्ष राहुल गांधी को दूसरों पर आरोप लगाने से पहले अपने पूर्वजों का इतिहास पलटना चाहिए।

मोदी ने कहा कि राहुल गांधी की दादी इंदिरा गांधी ने अगर एक संशोधन से देश पर आपातकाल थोपा और लोकतंत्र को मूर्छित किया था, तो पिता राजीव गांधी ने बेसहारा मुसलिम महिला शाहबानो को गुजारा भत्ता पाने से वंचित कर दिया था। उन्होंने कहा कि जिस व्यक्ति को एनसीसी के बारे में भी पता नहीं है, वह पीएम पद का सपना देख रहा हैं।  

उपमुख्यमंत्री ने कहा कि अविभाजित बिहार के जिन सरकारी खजानों से करोड़ों रुपये की अवैध निकासी हो रही थी, उसकी जानकारी तत्कालीन मुख्यमंत्री लालू प्रसाद को दिया गया था। इसके बावजूद   उन्होंने न जांच करायी, न संदिग्ध लोगों के खिलाफ कार्रवाई की, बल्कि गरीब जनता के पैसे की लूट में शामिल अफसरों को वह बचाते भी रहे।

मोदी ने कहा कि घोटाले की 80 फीसद राशि राजनीतिकों-अफसरों तक पहुंचती थी। सीबीआई की विशेष अदालत के फैसले में कही गईं इन बातों का राजद के पास कोई जवाब नहीं है। उन्होंने कहा चारा घोटाला बिहार की राजनीति को कलंकित करने वाला सबसे काला अध्याय था।

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Ravi Ranjan