पटना, जेएनएन। Sushant Singh Rajput Case: अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत की मौत के मामले की जांच के दौरान पटना पुलिस ने कम समय में ही अहम सुबूत जुटाए थे। पटना पुलिस ने अपनी जांच में पाया कि रिया चक्रवर्ती व सुशांत कि बीच अच्‍छे संबंध नहीं रहे थे। रिया ने आठ जून को सुशांत का घर छोड़के के बाद से उनका नंबर भी ब्लॉक कर दिया था। इसके बावजूद वह सुशांत के करीबी अपने लोगाें से संपर्क में थी। वह सुशांत के कई स्‍टाफ के अलावा सुशांत के फ्लैट में साथ रहने वाले सिद्धार्थ पिठानी के भी संपर्क में थी। सिद्धार्थ से वह फोन कॉल की बजाय वाट्सऐप कॉल पर बातचीत करती थी। इस दौरान उसने मुंबई के बांद्रा के डीसीपी से भी कई बार बातचीत की।

सुशांत से ज्‍यादा स्‍टाफ से की बात

पुलिस सूत्रों की मानें तो रिया की कॉल डिटेल में कई चौंकाने वाली बातें सामने आई हैं। रिया कुछ समय से सुशांत से ज्यादा उनके स्टाफ से बात करती थी। दूर बैठकर सुशांत के बारे में भी जानकारी लेती रहती थी। सुशांत के स्टाफ श्रुति से उसने एक साल में 800 बार से अधिक बातचीत की। एक और स्टाफ को रिया ने 502 बार कॉल किए। खास बात यह है कि रिया जिस स्टाफ को कॉल करती थी, उसको काम भी उसने ही दिलाया था।

सिद्धार्थ से वॉट्सऐप कॉल पर संपर्क

रिया ने सुशांत के फ्लैट में साथ रहने वाले सिद्धार्थ पिठानी को भी एक साल में 101 बार कॉल किए। रिया ने इस दौरान अपनी मां को भी 537 बार कॉल किए। अपने भाई सोविक चक्रवर्ती को 800 बार और पिता को 1100 से अधिक बार कॉल किए। एक फिल्म डायरेक्टर से भी 300 से अधिक बार बात की। फिल्म निर्माता महेश भट्ट से भी कई बार रिया की लंबी बातचीत हुई। जबकि, सुशांत को एक साल में रिया ने महज 142 बार कॉल किए।

बांद्रा डीसीपी से की पांच बार बातचीत

रिया ने सुशांत की मौत के बाद बांद्रा के डीसीपी से भी 20 जून से 18 जुलाई के बीच पांच बार बातचीत की। पुलिस अधिकारी को 20 जून, 22 जून, 01 जुलाई और 18 जुलाई को कॉल की गई थी। इनमें दो बार कॉल रिया की तरफ से तो दो बार डीसीपी की तरफ से कॉल किए गए।

ये कॉल और कुछ प्रमाणित करें या नहीं, इतना तो स्‍पष्‍ट है कि रिया की सुशांत पर कड़ी नजर थी। वह मुंबई पुलिस के भी संपर्क में थी।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप