पटना। जूनियर डाक्टर किसी भी मेडिकल कालेज अस्पताल की रीढ की हड्डी होते हैं। पीएमसीएच में पहली बार उनकी उपयोगिता मरीजों की दर्द भरी कराह के रूप में सामने आ रही है। यहां सर्जरी विभाग में भर्ती रोगियों की नियमित होने वाली सर्जरी गत चार दिन से स्थगित है। इसका कारण पीजी छात्रों की परीक्षा को बताया जा रहा है। हालांकि, सर्जिकल इमरजेंसी में आने वाले रोगियों के मेजर व माइनर आपरेशन किए जा रहे हैं। दोबारा सर्जरी कब से होगी या क्यों रोकी गई है इसकी जानकारी के लिए पीएमसीएच अधीक्षक से बात करने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने फोन काल या मैसेज का जवाब नहीं दिया।

बताते चलें कि पीजी छात्रों की परीक्षा हर वर्ष होती है लेकिन इसके पहले कभी नियमित सर्जरी स्थगित नहीं की गई थीं।

राजेंद्र सर्जिकल ब्लाक के सर्जरी वार्ड में भर्ती मधेपुरा के मरीज के स्वजन के अनुसार सोमवार को सर्जरी निर्धारित थी। जब वे वहां गए तो कर्मचारियों ने बताया कि पीजी छात्रों की परीक्षा चल रही है, इस कारण अभी कुछ दिन आपरेशन नहीं होंगे। हालांकि, विभाग के डाक्टरों का कहना है कि जिनकी सर्जरी टाली जा सकती है उन्हें ही स्थगित किया गया है। सर्जरी नहीं होने से जिनकी जान को खतरा है, उनके आपरेशन किए जा रहे हैं।

प्राचार्य डा. विद्यापति चौधरी से जब इस बारे में पूछा गया तो उन्होंने बताया कि सर्जरी स्थगित होने की सूचना मिली है। हालांकि, ऐसा क्यों करना पड़ा इसके बारे में अधीक्षक ही बेहतर जानकारी दे सकेंगे।

- - - - - - -

Edited By: Jagran