पटना, राज्य ब्यूरो। केंद्र की तरह राज्य सरकार के कर्मचारियों को भी वेतन में महंगाई भत्‍ता (Dearness Allowance) के तौर पर तीन प्रतिशत अधिक राशि मिलेगी। पेंशनभोगियों को भी इसी दर से महंगाई राहत का भुगतान किया जाएगा। वेतन और पेंशन में तीन प्रतिशत की बढ़ोत्तरी एक जुलाई से लागू होगी। इससे पहले सरकार ने जुलाई में ही महंगाई राहत में 11 प्रतिशत की बढ़ोत्तरी की थी। उस समय तक महंगाई भत्ते के रूप में 17 प्रतिशत भुगतान किया जा रहा है। गुरुवार को हुई तीन प्रतिशत बढ़ोत्तरी के बाद अब सरकारी सेवकों को इस मद में 31 प्रतिशत अधिक राशि मिलेगी। केंद्र सरकार के फैसले को बिहार में लागू करने के लिए राज्य कैबिनेट (Bihar Cabinet) अपनी मंजूरी देती है। कर्मचारियों को भरोसा है कि अगले कुछ दिनों में इस पर कैबिनेट की मुहर लग जाएगी। दीपावली के पहले यह कर्मियों और पेंशनभाेगि‍यों के लिए सौगात की तरह होगी।   

किस्‍तों में दी जा रही है बढ़ी हुई राशि 

केंद्र की ओर से इससे पहले जुलाई में हुई महंगाई भत्ते की वृद्धि को बिहार में लागू कर दिया गया है। बढ़ी हुई राशि किस्तों में दी जा रही है। जुलाई की राशि का भुगतान अक्टूबर के वेतन एवं पेंशन में किया गया है। अगस्त महीने की राशि का भुगतान नवम्बर के वेतन में किया जा रहा है। वहीं सितम्बर के वेतन में उस महीने के लिए निर्धारित महंगाई भत्ते की राशि का भुगतान किया जा चुका है। 

21 अक्‍टूबर को केंद्र सरकार ने की थी वृद्धि की घोषणा

मालूम हो कि दीपावली के पहले केंद्र सरकार ने केंद्रीय कर्मचारियों और पेंशनभाेगियों के लिए तोहफे का ऐलान किया है। बीते 21 अक्‍टूबर को केंद्रीय कर्मियों के डीए (Dearness Allowance) एवं पेंशनभा‍ेगियोंं के लिए महंगाई राहत (Dearness Relief) में वृद्ध‍ि का ऐलान किया था। सरकार के इस फेसले से 47 लाख से अधिक कर्मचारी एवं करीब 69 लाख पेंशनरों को बड़ी राहत मिलेगी। जुलाई में सरकार ने 11 प्रतिशत की बढ़ोतरी की थी। 

Edited By: Vyas Chandra