पटना, जागरण टीम। महाराष्ट्र के पुणे से चली पहली स्‍पेशल ट्रेन से राज्‍य के चार सौ अप्रवासी शनिवार की देर रात पटना के दानापुर स्‍टेशन पहुंचे। वहां कोरोनावायरस संक्रमण की जांच में पॉजिटिव पाए गए 17 यात्रियों को पाटलिपुत्र अशोक होटल और सगुना मोड़ स्थित आइसोलेशन सेंटर पर क्वारंटाइन किया गया। आगे रविवार की दोपहर मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल से खुली पहली ट्रेन पाटलिपुत्र जंक्शन पर पहुंचेगी। यह ट्रेन शाम 6:50 बजे दरभंगा स्टेशन पहुंचेगी। इस ट्रेन से उतरने वाले यात्रियों की भी कोरोनावायरस संक्रमण की जांच की जाएगी।

पटना के दानापुर स्‍टेशन पर पहुंची पहली स्‍पेशल ट्रेन

महाराष्‍ट्र में कोरोनावायरस संक्रमण की दूसरी लहर में हालात खराब हो गए हैं। वहां कल-कारखाने बंद होते जा रहे हैं। दैनिक काम करने वाले श्रमिकों के समाने रोगजार का संकट खड़ा हो गया है। लॉकडाउन लगाए जाने की स्थिति में हालात और बिगड़ने की आशंका तले दबे ऐसे अप्रवासी घर वापसी करने लगे हैं। पुणे से ऐसे ही चार सौ बिहारी अप्रवासियों को लेकर पटना के दानापुर स्‍टेशन पर पहली स्‍पेशल ट्रेन पहुंची।

पुणे से पहुंची ट्रेन में ज्यादातर अप्रवासी उत्तर बिहार के

शनिवार की देर रात पहुंची ट्रेन में ज्यादातर उत्तर बिहार के जिलों के श्रमिक थे। पुणे से ट्रेन में 1600 श्रमिक सवार हुए, जिनमें से 1200 दानापुर से पहले ही अलग-अलग स्‍टेशनों पर उतर चुके थे। दानापुर से पहले इस ट्रेन से पंडित दीनदयाल उपाध्याय जंक्शन, बक्सर व आरा में भी यात्री उतरे।

आइसोलेशन सेंटर भेजे गए कोरोना पॉजिटिव अप्रवासी

दानापुर स्टेशन पर उतरने वाले यात्रियों की कोरोनावायरस जांच के लिए प्लेटफॉर्म नंबर एक पर 15 काउंटर लगाए गए थे, जिनपर एंटीजन किट से जांच की गई। कोरोनावायरस नेगेटिव यात्रियों को स्‍टेशन के बाहर जाने दिया गया। जबकि, पॉजेटिव पाए गए 17 यात्रियों को आइसोलेशन सेंटर भेज दिया गया।

आज भी मुंबई से अप्रवासियों को लाएगी स्पेशल ट्रेन

महाराष्ट्र से रविवार की दोपहर में भी एक स्पेशल ट्रेन पाटलिपुत्र जंक्शन पर पहुंचेगी। महाराष्‍ट्र से दानापुर मंडल में आने वाली यह दूसरी स्‍पेशल ट्रेन मुंबई के छत्रपति शिवाजी महाराज टर्मिनल से आने वाली पहली ट्रेन है। इसके बाद वह आगे दरभंगा में शाम 6:50 बजे पहुंचेगी। इस ट्रेन से उतरने वाले यात्रियाें की भी कोरोना जांच होगी।

महाराष्‍ट्र से बिहार आ रहे यात्री बता रहे वहां के हालात

महाराष्‍ट्र से बिहार आ रहे यात्री वहां के हालात बता रहे हैं। बरीब 12 साल से धरावी में रहकर काम करने वाले नवादा के आनंद पासवान बताते हैं कि थे। वहां पिछले साल से भी खराब हालात हैं। फैक्ट्री मालिक ने तो इस महीने की तनख्वाह भी नहीं दी है। वहां के अस्पतालों में जगह नहीं है। डर से लोग घर लौटने लगे हैं। बिहारशरीफ के मंसूर अहमद के अनुसार मुंबई में कोरोनावायरस संक्रमण महामारी के रूप में फैल गया है। मुंबई से लौटे सुधीर रमानी कहते हैं कि स्थिति सामान्य होने पर ही वे वापस जाएंगे।

यह भी पढे़ं- Chennai Express: कोरोना के खौफ पर भारी पेट की आग, गया से बिहार-झारखंड के मजदूर चले परदेस

Edited By: Amit Alok