सारण, जेएनएन। लालच में आदमी कुछ भी कर जाता है। कुछ ऐसा ही किया है सारण के एकमा स्थित जनता बाजार थाना क्षेत्र के मिर्जापुर निवासी जयराम सिंह ने। जीवित पिता को मृत बताकर जमीन बेच दी। हालांकि उसकी यह कारगुजारी खुल ही गई। यूपी पुलिस से रिटायर्ड पिता महेश सिंह कोर्ट पहुंच गए। खुद के जीवित होने का साक्ष्य प्रस्तुत किया। इसके बाद कोर्ट ने मामले में संलिप्त सभी आरोपितों के खिलाफ प्राथमिकी का आदेश दिया है। 

बताया जाता है कि जयराम सिंह ने अपने पिता को मृत घोषित कर गांव की विद्यावती देवी के नाम जमीन बेच दी। जब उसने पिता को मृत बताकर जमीन बेची उस वक्त महेश सिंह यूपी पुलिस में हवलदार के पद पर कार्यरत थे। अवकाश प्राप्त कर घर पहुंचे तो बेटे की करतूत की उन्हें जानकारी मिली।

बेटे ने जिस जमीन की बिक्री में अपने पिता को मृत घोषित कर दिया था, उसके खिलाफ महेश सिंह पूरा साक्ष्य लेकर कोर्ट पहुंचे। इसके बाद कोर्ट ने फर्जी तरीके से जमीन बैनामा करनेवाले जयराम सिंह एवं जमीन रजिस्ट्री कराने वाली विद्यावती देवी सहित गवाह के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया। कोर्ट के आदेश पर एकमा थाने में प्राथमिकी कांड संख्या 138/19 दर्ज की गई है। 

Posted By: Rajesh Thakur

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस