आरा, जागरण संवाददाता। बिहार में शराब पर प्रतिबंध लगे पांच साल से अधिक हो चुके हैं। बावजूद शराब का धंधा चोरी छिपे जारी है। इस मामले में कार्रवाई होती है। लेकिन पीने वाले और  धंधेबाज ऐसे हैं कि मानने को तैयार नहीं हैं। तमाम  प्रतिबंध के बावजूद शराब की बिक्री एवं पीने पर अंकुश नहीं लग पा रहा है। शनिवार काे आरा शहर में शराबखोरी के दो रंग देखने को मिले। पहले केस में पिता ने अपने नशेड़ी बेटे एवं दूसरे केस में बेटे ने अपने नशेड़ी पिता को पुलिस से पकड़वा दिया।दोनों ही घटना नवादा थाना क्षेत्र की है। जिसे लेकर पुलिस ने अलग -अलग केस दर्ज किया है। पुलिस ने उत्पाद अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज करते हुए जेल भेज दिया है।

अनाईठ में शराब पीकर मारपीट कर रहे थे पिता, बेटे ने पुलिस बुला धरवाया

शहर के नवादा थाना के अनाईठ मुहल्ला में एक पिता शराब पीकर मारपीट एवं गाली-गलौज कर रहा था। इस दौरान पुत्र मन्नू कुमार ने पुलिस को इसकी सूचना दी। सूचना मिलते ही पुलिस ने अनाईठ पहुंचकर शराब पीने एवं मारपीट करने के आरोप में भरत सिंह को गिरफ्तार कर लिया। उस समय भी वह नशे में था। इसके बाद ब्रेथ एनलाइजर से जांच कराई गई तो उसमें भी शराब पीने की पुष्टि हुई। इसके  बाद केस करते हुए जेल भेज दिया गया।

शराब पीकर पत्नी के साथ कर रहा था मारपीट, हुआ गिरफ्तार

घटना चंदवा टोला की है। जहां पर एक युवक शराब के नशे में अपनी पत्नी एवं परिवार के सदस्यों के साथ मारपीट एवं गाली-गलौज कर रहा था। पिता त्रिभुवन राम ने इसकी सूचना पुलिस को दी। जिसके बाद पुलिस ने वहां पहुंचकर शराब पीने के आरोप में पुत्र युद्धेश्वर कुमार को धर दबोचा। इसके बाद थाने लाकर ब्रेथ एनलाइजर से जांच की गई। अल्कोहल की मात्रा पाए जाने पर केस दर्ज कर जेल भेज दिया गया।

 

Edited By: Vyas Chandra