पटना [जेएनएन]। भाजपा के 'शत्रु' शॉटगन (शत्रुघ्‍न सिन्‍हा) ने फिर पार्टी लाइन से अलग राह पकड़ी है। इस बार मामला नरेंद्र मोदी सरकार के खिलाफ बनारस में आयोजित आम आदमी पार्टी (आप) की रैली में शामिल होने का है। शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने भाजपा से अलग हुए पूर्व मंत्री यशवंत सिन्हा के साथ गैर राजनीतिक संगठन 'राष्ट्र मंच' का गठन किया है। इसी संस्‍था के प्रतिनिधि के तौर पर वे रैली में शामिल होंगे।

विदित हो कि आम आदमी पार्टी बनारस के बेनियाबाग से पांच चरणों की पदयात्रा शुरू करने जा रहा है। आंदोलन की अगुआई पार्टी के राष्ट्रीय महासचिव संजय सिंह कर रहे हैं। इसके पहले चरण को 'जन अधिकार आंदोलन' नाम दिया गया है। आम आदमी पार्टी ने मोदी सरकार पर वादाखिलाफी और अघोषित आपातकाल लागू करने का आरोप लगाया है।

यशवंत सिन्‍हा ने की पुष्टि

'राष्ट्र मंच' की तरफ से यशवंत सिन्हा ने शत्रुघ्न सिन्हा के रैली में शामिल होने की पुष्टि की है। खुद के शामिल नहीं होने के संबंध में उन्‍होंने इसका कारण खराब स्‍वास्‍थ्‍य बताया।

विपक्षी एकता के लिए महत्‍वपूर्ण रैली

इस रैली को विपक्षी एकता के लिए महत्‍वपूर्ण माना जा रहा है। यशवंत सिन्‍हा ने भी कहा कि जहां तक वाराणसी सीट से मोदी के खिलाफ विपक्षी गठबंधन को समर्थन का सवाल है, विकल्प खुले हैं। खास बात यह भी है कि आम आदमी पार्टी नेता व दिल्ली के मुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने 2014 का लोकसभा चुनाव नरेंद्र मोदी के खिलाफ बनारस से ही लड़ा था। इस कारण भाजपा से शत्रुघ्‍न सिन्‍हा का इस आंदोलन में शामिल होना बड़ी घटना मानी जा रही है।

शॉटगन की पार्टी विरोधी बयानबाजी तेज

बताया जाता है कि शत्रुघ्‍न सिन्‍हा ने इन दिनों पार्टी विरोधी बयानबाजी तेज कर दी है। राजनीतिक प्रेक्षकों की मानें तो वे चाहते हैं कि भाजपा उनके खिलाफ कार्रवाई करे। हाल ही में उन्‍होंने कहा भी है कि वे पार्टी नहीं छोड़ने जा रहे, हां अगर पार्टी ही उन्‍हें निकाल दे तो और बात है। 

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस