पटना, जेएनएन। राजद खेमे में शुक्रवार को एक बार फिर गरमाहट आ गयी है। स्‍थापना दिवस समारोह के दौरान राजद के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष शिवानंद तिवारी ने पार्टी सुप्रीमो लालू प्रयाद यादव के लाल तेजस्‍वी यादव को जमकर ललकारा है। उन्‍होंने नेता प्रतिपक्ष को दो टूक कहा कि आप कहते हैं कि शेर के बेटा हैं। अगर शेर हैं तो मांद में क्यों बैठे हैं। 

शिवानंद तिवारी ने कहा कि तेजस्‍वी, ऐसे नहीं चलेगा, सामने आइए। पुलिस की लाठी खाइए, जेल जाइए तभी कुछ होगा। साथ ही उन्‍होंने सलाह भी दी कि अब लड़कपनी से काम नहीं चलने वाला है। चुनाव जीतने के लिए लाठी भी खाना पड़ेगा, तो खाइए। पीछे नहीं हटिए। मांद में बैठे रहने से लड़ाई नहीं जीत पाएंगे। 

दरअसल, राजद सुप्रीमो लालू यादव के छोटे बेटे तेजस्‍वी यादव लोकसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद से लापता हो गए थे। इस दौरान विरोधी ही नहीं, बल्कि महागठबंधन के लोग भी उन पर हमलावर हो गए थे। लगभग 35 दिनों के बाद वे पटना पहुंचे। बीमारी की बात बताई। लेकिन उनके इस बात पर किसी को विश्‍वास नहीं हुआ। गुरुवार को तेजस्‍वी विधानसभा भी पहुंचे, लेकिन मीडिया से बात नहीं की। हालांकि उन्‍होंने कुछ ट्वीट जरूर किये। सीएम नीतीश पर कटाक्ष भी किये। 

इसी बीच, शुक्रवार को एक बार फिर तेजस्‍वी यादव चर्चा में आ गए। राजद के स्‍थापना दिवस समारोह में उपस्थित नहीं हुए। पार्टी के स्‍थापना दिवस समारोह में राबड़ी देवी पहुंचीं। उनके साथ तेजप्रताप भी पहुंचे। इनके अलावा राष्ट्रीय उपाध्यक्ष रघुवंश प्रसाद सिंह, जगदानंद सिंह, शिवानंद तिवारी, अब्दुलबारी सिद्दीकी, आलोक मेहता, शिवचंद्र राम, शैलेश कुमार उर्फ बुलो मंडल आदि पहुंचे। लेकिन जिसका इंतजार था, वही नहीं पहुंचे। तेजस्‍वी यादव कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। बाद में उनके लिए लगाई गई कुर्सी पर प्रदेश अध्‍यक्ष रामचंद्र पूर्वे को बैठाया गया।

स्‍थापना दिवस कार्यक्रम में भी राजद के राष्‍ट्रीय उपाध्‍यक्ष शिवानंद तिवारी ने तेजस्‍वी को सलाह के साथ ललकारा भी। उन्‍होंने कहा कि आप खुद को शेर का बेटा कहते हैं तो मांद में बैठने से काम नहीं चलेगा। सामने आना होगा। हमसब आपके साथ हैं। उन्‍होंने कहा कि लालू यादव हार से कभी नहीं डरे। हमलोग के साथ बिहार की जनता चाहती है कि आप मुख्‍यमंत्री बनें। लडि़ए। नीतीश सरकार की लाठी खाइए। खास बात कि जब शिवानंद तिवारी बरस रहे थे तो कार्यक्रम में राबड़ी देवी खुद मौजूद थीं। 

Posted By: Rajesh Thakur

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप