पटना, जेएनएन। सब्जी मार्केट, राशन की दुकानों, फल मंडियों में आपको दूरी बनाकर रहना पड़ेगा। अन्यथा सामान नहीं मिलेगा। आम जन को सामाजिक दूरी का पालन करने करने के लिए सार्वजनिक जगहों जैसे फल-सब्जी मंडी, एटीएम, दूध एवं राशन दुकानों के पास तय दूरी पर नगर निगम ने जमीन पर गोल निशान बनाए हैं। एक से ज्यादा व्यक्ति अगर किसी दुकान या ठेले पर जरूरी सामान लेने पहुंचेंगे तो गोले में खड़े होने पर दूरी बनी रहेगी। इससे संक्रमण का खतरा नहीं होगा। अगर कोई ऐसा नहीं करेगा तो पुलिस-प्रशासन सख्त कार्रवाई करेगा। दुकानदारों से भी कहा गया है उनकी दुकान के बाहर अगर कोई ग्राहक इन गोले के बाहर खड़ा रहता है तो वे उसे कोई सामग्री नहीं बेचें।

शुक्रवार को बिहार के कई जिलों में इस सोशल डिस्टेंसिंग के नजारे दिख रहे हैं। पटना के साथ शेखपुरा नें भी लोक तय मानक के हिसाब से दूरी बनाकर घरेलू सामान खरीदते दिखाई दे रहे हैं। 

गली-मोहल्लों में घूमकर फल-सब्जी बेचें वेंडर

पटना नगर निगम क्षेत्र में ताजी सब्जियों की कमी नहीं होगी। नगर निगम की महापौर सीता साहू ने गुरुवार की शाम फल-सब्जियों के 60 ठेला वेंडरों को रवाना किया। महापौर ने कहा कि संक्रमण के खतरे के बावजूद फुटपाथ पर एक जगह दुकान लगाने की बजाय वेंडर गली-मोहल्लों में घूम-घूमकर फल-सब्जी की बिक्री करें।

पटना नगर निगम वेंडर यूनियन से भी वेंडरों के साथ समन्वय स्थापित करने, प्रत्येक गली-मोहल्ले की जिम्मेदारी किसी विक्रेता विशेष को सौंपने को कहा जा रहा है। वेंडर यूनियन ने पटना नगर निगम मुख्यालय को सभी विक्रेताओं के नाम, फोन नंबर एवं व्यवसाय एवं क्षेत्र संबंधित जानकारी उपलब्ध कराई है। निगम मुख्यालय स्तर से इसकी निगरानी होगी।

गुरुवार की शाम मौर्यलोक परिसर स्थित नगर निगम मुख्यालय से करीब 60 स्ट्रीट वेंडरों को पास देकर रवाना किया गया। दूसरी ओर फुटपाथी विक्रेताओं के विकास के लिए स्वयंसेवी संस्था निदान के सहयोग से निगम ने फल-सब्जी बेचने वाले सभी विक्रेताओं से अपील की है कि वे मंडी या हाट में दुकान सजाने की बजाय गली-मोहल्लों में घूम-घूमकर अपना सामान बेचें। किसी भी परिवार को इनकी किल्लत ना हो और उन्हें मजबूरन भीड़भाड़ वाले जगहों पर नहीं जाना पड़े।

यूं बरतें एहतियात

दैनिक जागरण के सहयोग से राजीव नगर रोड नंबर-5 मुख्य रोड स्थित ओम मेडिकल स्टोर के ग्राहकों को संक्रमण से बचने को दूरी बनाकर रखने के लिए जागरूक किया गया। साथ ही जमीन पर सफेद गोले बना उन्हें खड़े होने की सलाह दी गई।

बिना राशन कार्ड वालों को भी दें अनाज

मेयर सीता साहू ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को पत्र लिखकर कहा है कि बिना राशन कार्ड वाले बीपीएल और गरीबों को भी अनाज तथा एक हजार रुपये दिए जाएं। उन्होंने लॉकडाउन के कारण सरकार द्वारा राशनकार्डधारियों को अनाज एवं उनके खाते में एक हजार रुपये भेजने की घोषणा की सराहना की। महापौर ने पत्र में कहा है कि राशन कार्डधारी के अलावा बहुत से ऐसे परिवार हैं, जो बीपीएल श्रेणी में हैं और उनके पास राशन कार्ड नहीं है। इनके सामने भोजन की समस्या है। मेरा सुझाव है कि बीपीएल श्रेणी के अत्यंत गरीब व दिहाड़ी मजदूरों को अनाज और राशि भुगतान कराने की कृपा की जाए।

जागरण की पहल दूर-दूर रहकर सामान खरीदें लोग

कोरोना वायरस के संक्रमण के बढ़ते प्रकोप को देखते हुए दैनिक जागरण ने जागरूकता अभियान शुरू किया है। सामान की खरीदारी करने वाले लोगों को जागरूक करने के लिए जागरण की ओर से दुकानों के बाहर थोड़ी-थोड़ी दूर पर गोल घेरा बनाया जा रहा है। गुरुवार को राजीवनगर के ओम मेडिकल हॉल के सामने सफेद रंग के गोले बनाए गए। यहां आए हुए लोगों से अपील की गई कि वे जब भी खरीदारी करने निकले तो इसी तरह एक दूसरे के संपर्क में आने से बचे। मेडिकल हॉल के संचालक देवेंद्र कुमार ने भी जागरण की इस पहल की सराहना की और कहा कि यह व्यवस्था सभी दुकानों में होनी चाहिए। धीरे-धीरे इससे दुकानदारों और राजधानीवासियों में जागरुकता आएगी।

Posted By: Akshay Pandey

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस