जागरण संवाददाता, शेखपुरा। शेखपुरा जिले के शेखोपुरसराय में पांची गांव में पटना के रहने वाले प्‍लंबर की हत्‍या के मामले में पुलिस ने बड़ा पर्दाफाश किया है। पटना के कंकड़बाग निवासी चंद्रशेखर प्रसाद की पत्थर से पीट-पीटकर हत्‍या कर दी गई थी। गांव में उसका शव मिला तो शुरुआत में कोई पहचान नहीं सका था। मामले में अज्ञात के विरुद्ध स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज कराई गई। 24 मई के हुए इस हत्याकांड को पुलिस ने एक सप्ताह के अंदर ही सुलझा लिया। इसमें अवैध संबंध का मामला आया है। हत्‍या के लिए आरोपित पति-पत्नी को पुलिस ने पटना से गिरफ्तार किया है।

जानकारी देते हुए शेखोपुरसराय थानाध्यक्ष प्रमोद कुमार ने बताया कि पटना के कंकड़बाग मोहल्ला में ही शेखपुरा का एक शख्‍स रहकर रोजगार करता है। इस शख्‍स की पत्नी की तबीयत खराब रहती थी। उसने किसी के बताने पर चंद्रशेखर को अपने घर बुलाया। बताया जा रहा है कि चंद्रशेखर प्‍लंबर के अलावा ओझा-गुनी का काम भी करता था। झाड़फूंक के लिए वह अक्‍सर शेखपुरा के परिवार के घर जाने लगा। इस बीच महिला के साथ उसके अवैध संबंध बन गए। बाद में उसकी नजर घर की लड़की पर भी पड़ने लगी। इसकी भनक लगने के बाद शेखपुरा के रहने वाले दंपती ने अपनी पत्नी के साथ मिलकर एक साजिश रची और इस हत्याकांड को अंजाम दिया।

पुलिस ने बताया कि वारदात को अंजाम देने के लिए आरोपित दंपती पहले ही गांव आ गया गया। इसके बाद महिला ने किसी बहाने से प्‍लंबर को अपने गांव में बुलाया। गांव में आने पर प्‍लंबर को रात के वक्‍त शराब पिलाई गई और खेत में पत्थर से पीट-पीटकर उसकी हत्या कर दी गई। पहचान छिपाने के लिए चेहरे को कुचल दिया गया। उसकी जेब से बरामद आधार कार्ड से उसकी पहचान हुई। मोबाइल लोकेशन, मोबाइल ट्रैकिंग के आधार पर पुलिस ने हत्याकांड का खुलासा किया। इस मामले में आरोपित दंपती को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

Edited By: Shubh Narayan Pathak