पटना [अमित आलोक]। लोकतांत्रिक जनता दल (लोजद) के नेता तथा बिहार के मधेपुरा लोकसभा सीट पर राष्‍ट्रीय जनता दल (राजद) के प्रत्याशी शरद यादव ने विवादित बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर इस बार के चुनाव में नरेंद्र मोदी जीत गए तो वे उनकी हत्या करवा देंगे। शरद यादव इसके पहले भी अपने विवादित बयानों के लिए चर्चा में रहे हैं। अपने बयानों में वे वसुंधरा राजे सिंधिया को 'मोटी' तथा वोट की कीमत को बेटी की इज्जत से बढ़कर बता चुके हैं।

पीएम मोदी को लेकर कही ये बात

शरद यादव ने अपने संसदीय क्षेत्र के सौर बाजार में एक चुनावी सभा में कहा कि इस चुनाव में उनकी जान को खतरा है। अगर नरेंद्र मोदी चुनाव जीत कर दोबारा सत्‍ता में आए तो उन्‍हें जेल भिजवा देंगे या गोली मरवा देंगे।

इसलिए ऐसे लोगों से सावधान होने की जरूरत है।

पहले भी दे चुके कई विवादित बयान

शरद यादव पहले भी कई विवादित बयान दे चुके हैं। आइए ऐसे ही कुछ चर्चित रहे बयानों पर डालते हैं नजर...

- पिछले साल राजस्थान में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान शरद शरद यादव ने वसुंधरा राजे पर तंज कसते हुए कहा था, ''वसुंधरा को अब आराम दो। बहुत थक गई हैं। बहुत मोटी हो गई हैं। पहले पतली थीं।''

- जनवरी 2017 में शरद ने कहा था, ''वोट की कीमत बेटी की इज्जत से बढ़कर है। बेटी की इज्जत जाएगी तो गांव और मोहल्ले की इज्जत जाएगी। अगर वोट बिक गया तो देश की इज्जत जाएगी। पैसे की बदौलत आजकल वोट खरीदा और बेचा जा सकता है।''

- शरद यादव ने राज्यसभा में बीमा विधेयक की चर्चा की दौरान कहा था कि दक्षिण भारत की महिलाओं का शरीर सुंदर होता है।

- शरद यादव ने कावंड़ियों को लेकर भी विवादित बयान दिया था। उन्होंने कहा था कि कांवड़ियों के पास कोई काम-धंधा नहीं है, इसलिए वे हरिद्वार जाते हैं।

नीतीश से मतभेद पर पार्टी छोड़ी, अब लालू के साथ

शरद यादव पहले जनता दल यूनाइटेड (जदयू) के अध्यक्ष रह चुके हैं। लेकिन मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार से मतभेद के बाद उन्होंने पार्टी छोड़कर अपनी पार्टी लोकतांत्रिक जनता दल का गठन किया। आगामी लोकसभा चुनाव में उनकी पार्टी महागठबंधन का हिस्सा बनी, लेकिन सीट बंटवारे के क्रम में उन्‍हें राजद के टिकट पर मधेपुरा से चुनाव लड़ने का मौका मिला। शरद यादवअब लालू यादव के साथ हैं। उनकी पार्टी का विलय भी राजद में कर दिया जाएगा।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप