भागलपुर। विशेष केंद्रीय कारा के अस्पताल वार्ड में बंद सिवान के पूर्व सांसद मो. शहाबुद्दीन ने यहीं से अपने जिले सिवान की राजनीति शुरू कर दी है। सोमवार को तीन दर्जन से अधिक नेता, व्यवसायी व सामाजिक कार्यकर्ता उनसे मिलने पहुंचे।

यद्यपि केवल पांच अधिवक्ता मुहम्मद मोबिन खलील, पूर्व एमएलसी एवं सिवान में राजद के जिलाध्यक्ष परमात्मा राम, मुहम्मद शाकिब, राजेश पांडेय और मुहम्मद ऐन ही शहाबुद्दीन से मिल पाए। इस बीच मुलाकाती कक्ष में शहाबुद्दीन व सहरसा के कुख्यात पप्पू देव के बीच भी आधे घंटे तक बातचीत हुई।

मिशन 2919 की करें तैयारी

शहाबुद्दीन से मिलकर जेल से बाहर आए लोगों ने कहा कि पूर्व सांसद ने उन्हें 2019 के लोकसभा चुनावों की तैयारी अभी से करने को कहा गया है। शहाबुद्दीन ने उन्हें जमीनी स्तर पर काम कर पार्टी संगठन को मजबूत करने को कहा है।

कई समर्थक हुए निराश

सख्त मुलाकाती नियमों के कारण सिवान, पटना, वैशाली, पूर्णिया व छपरा से शहाबुद्दीन से मिलने आए उनके कई समर्थकों को निराश होकर लौटना पड़ा।

पप्पू देव से आधे घंटे की गुफ्तगू

एक ही मुलाकाती कक्ष में लाए गए शहाबुद्दीन और सहरसा के कुख्यात अपराधी पप्पू देव के बीच सोमवार को आधे घंटे तक बातचीत हुई। पप्पू देव को भी पूर्णिया से लाकर भागलपुर जेल में रखा गया है। पप्पू को थर्ड सेक्टर के अंडा सेल संख्या-3 में रखा गया है। पप्पू देव से मिलने भी नवगछिया, सहरसा, पूर्णिया इलाके से कई समर्थक पहुंचे थे।

शहाबुद्दीन व पप्पू देव की बातचीत की चर्चा

जेल गेट के बाहर भी शहाबुद्दीन व पप्पू के समर्थक दबी जुबान से उनकी बातचीत की चर्चा करते रहे।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021