पटना। पाटलिपुत्र थाना क्षेत्र में बैंकिंग की तैयारी करने वाली छात्रा का शिक्षक द्वारा यौन शोषण करने का मामला प्रकाश में आया है। आरोपित शिक्षक ने छात्रा को अपनी बहन बताकर किराए पर कमरा लिया था और दोनों साथ रह रहे थे। घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने छात्रा का बयान दर्ज किया और आरोपित शिक्षक ऋषि श्याम को गिरफ्तार कर लिया। पकड़े जाने के बाद ऋषि प्रेम संबंध की बातें कह रहा था। उसने थाने में भी खूब शोर-शराबा किया। थानाध्यक्ष केपी सिंह ने बताया कि आरोपित को गिरफ्तार कर लिया गया है। छात्रा की मेडिकल जांच कराई जाएगी।

कोचिंग में नामांकन कराने आई थी छात्रा

जमुई जिले के सिकंदरा की रहने वाली 19 वर्षीय छात्रा पटना के बोरिग कैनाल रोड स्थित महिद्रा कोचिंग सेंटर में नामांकन कराने आई थी। उसने प्रवेश परीक्षा दी, लेकिन फेल हो गई। वह दोबारा परीक्षा देने आई तो उसकी मुलाकात ऋषि श्याम से हुई। ऋषि उसी कोचिंग में पढ़ाता है। उसने छात्रा से कहा कि तुम्हें कोचिंग में दाखिला लेने की जरूरत नहीं है। मैं पढ़ा दूंगा। तुम कमरा ले लो।

पहचान बदलकर लिया था कमरा

ऋषि ने अपना नाम राजकुमार और पता लखीसराय जिले के धीरा गांव निवासी बताया। इस नाम व पते से उसने आधार कार्ड भी बनवाया था। इसमें उसके पिता का नाम भी फर्जी है। इसी पहचानपत्र को दिखा कर उसने पाटलिपुत्र कॉलोनी में किराए पर कमरा लिया। मकान मालिक को उसने बताया कि वह कोचिंग में पढ़ाता है और यहां उसकी बहन साथ रहेगी। छात्रा को बहन बताकर वह कमरे पर रखता था। करीब तीन महीने से दोनों साथ रह रहे थे। ऋषि मूलरूप से झारखंड की राजधानी रांची के नामकुम की नया टोला कॉलोनी का रहने वाला है।

इस तरह मिली पुलिस को शिकायत

थानाध्यक्ष के मुताबिक, मकान मालिक को ऋषि की हरकतों पर शक हुआ। उन्होंने छात्रा को किसी से बात करते सुना तो मालूम हुआ कि वह मुस्लिम है। इसके बाद उन्होंने थाना पुलिस को इत्तिला दी। उन्हें लगा कि दोनों कहीं घर से भाग कर तो नहीं आए हैं। मगर पुलिस ने पहुंचकर छानबीन की तो पता चला कि पढ़ाई कराने के नाम पर ऋषि छात्रा का यौन शोषण कर रहा था।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस