पटना [जेएनएन]। पाटलिपुत्र थानाक्षेत्र में एक प्रोफेसर और उनकी पत्नी रविवार को किसी काम से पटना से बाहर गए हुए थे। घर में उनकी 17 वर्षीया बेटी और छह वर्षीय बेटा था। बेटी बारहवीं की छात्रा है। रविवार दोपहर करीब एक बजे प्रोफेसर के फ्लैट के बाहर गार्ड अंजन कुमार ने बेल बजाई तो बेटी ने दरवाजा खोल दिया। 

दरवाजे के बाहर अंजन को खड़ा देख छात्रा कुछ पूछती कि उसे धक्का देकर वह कमरे में दाखिल हो गया। छात्रा की पिटाई करते हुए कमरे को अंदर से बंद कर लिया और उसके साथ दुष्कर्म कर फरार हो गया। पीडि़ता ने इस बात की खबर अपने पिता को दी।

इस खबर के बाद माता-पिता सब काम छोड़ वापस पटना के लिए चल दिए। सोमवार की देर रात घर पहुंचने के बाद परिजनों ने पाटलिपुत्र थाना पुलिस को खबर की। दुष्कर्म की खबर सुनते ही पुलिस महकमा में हड़कंप मच गया। शुरुआत में पुलिस ने मामले को दबाने का प्रयास किया। मंगलवार की सुबह पीडि़ता संग परिजन पाटलिपुत्र थाने पहुंचे। 

पुलिस ने गार्ड अंजन पांडेय के खिलाफ केस दर्ज कर पीडि़ता को मेडिकल जांच के लिए भेज दिया। पुलिस आरोपित की तलाश में पटना और मनेर में छापेमारी कर रही है। पीडि़ता का कोर्ट में बयान दर्ज कराया जाएगा। 

थाना प्रभारी टीएन तिवारी के मुताबिक घटना सूचना मिलते ही पीडि़ता के केस दर्ज करने के बाद पुलिस मामले की छानबीन में जुटी तो पता चला कि अंजन मूल रूप से मनेर का रहने वाला है। एक माह पूर्व प्रोफेसर के घर चालक की नौकरी करता था। बाद में उसे निकाल दिया गया था।

पांच माह पूर्व अंजन उसी अपार्टमेंट में गार्ड की नौकरी भी कर चुका था। चालक की नौकरी छोडऩे के बाद प्रोफेसर के फ्लैट के बगल में दूसरे अपार्टमेंट में गार्ड की नौकरी करने लगा था। 

 

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस