पटना [जेएनएन]। बिहार के नवादा जिले में में पुलिस अधिकारियों पर आईजी का डंडा चला है। इलाके के आईजी ने केसों के निपटारे में शिथिलता दिखाने वाले 53 पुलिसकर्मियों के वेतन पर रोक लगाने का आदेश नवादा जिला के पुलिस कप्तान विकाश बर्मन को दिया है।

जिन पुलिसवालों का वेतन रोका गया है उनमें 7 एसएचओ, 23 एसआई, 23 एएसआई शामिल हैं। साथ ही साथ एक इंस्पेक्टर के वेतन बन्द करने की सिफारिश डीआईजी के पास भेज दी गई है। इन सभी पुलिसकर्मियों के ऊपर केस के निष्पादन में 3 माह से विलंब होने का आरोप था जिसके बाद ये कार्रवाई की गई है।

बता दें कि पिछले हफ्ते से शुरू हुए एसपी के रिव्यू मीटिंग में पूरे जिले के थानों की फाइलें खंगाली जा रही हैं। एसपी ने बताया कि पहले सभी अफसरों को एक चेतावनी के साथ आगाह किया गया था। एसपी ने कहा कि अगर वेतन रोकने से भी उनके कार्यों मे तेजी नहीं आयी तो वैसे पुलिसकर्मियों के उपर विभागीय कार्रवाई भी की जाएगी।

आईजी की मीटिंग में यह बताया गया कि अपराध में कमी लाने के लिए सभी लंबित मामलों का निष्पादन जल्द से जल्द किया जाए ताकि वैसे अपराधियों को सजा दिलाई जा सके जो अपराध के बाद अभी भी फरार चल रहे हैं। एसपी ने बताया कि यह अभियान पूरे जिले में फिलहाल जारी रहेगा और अभी कुछ और पुलिसकर्मियों पर कार्रवाई की जाएगी।

Posted By: Ravi Ranjan

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस