रणजी ट्रॉफी मुकाबले के पहले दिन उदेशी ने झटके छह विकेट, पुडुचेरी ने बगैर नुकसान के बनाए 62 रन

जागरण संवाददाता, पटना : बायें हाथ के स्पिनर सागर उदेशी की घातक गेंदबाजी (6/50) से पुडुचेरी ने रणजी ट्रॉफी प्लेट मुकाबले के पहले दिन बिहार पर शिकंजा कस लिया है। मोइनुल हक स्टेडियम में सोमवार को टॉस जीतकर पुडुचेरी ने पहले क्षेत्ररक्षण करने का फैसला किया। जवाब में बिहार की टीम पहला रणजी मैच खेल रहे सागर की गेंदबाजी को नहीं झेल सकी और 68.3 ओवर में महज 173 रनों पर पवेलियन लौट गई। मेजबानों की ओर से इंद्रजीत (15 रन), कुमार निशांत (24 रन), बाबुल कुमार (22 रन), रहमत उल्लाह (16 रन), शशीम राठौर (31 रन), विकास रंजन (10 रन), कप्तान आशुतोष अमन (23 रन) और विवेक (19 रन) ही दोहरे अंक में प्रवेश कर सके। चयन को लेकर विवादो में आए शिवम एस. कुमार ने 14 गेंद में एक चौका की मदद से 8 रन बनाए। हालांकि उनकी असली परीक्षा मंगलवार को गेंद से होगी, जहां वे बेहतरीन गेंदबाजी कर अपने आलोचकों का मुंह बंद कर सकते हैं। समर कादरी बिना खाता खोले पवेलियन लौट,े जबकि साबिर खान शून्य पर नाबाद रहे। पुडुचेरी की ओर से सागर पी उदेशी ने 50 रन देकर 6, असित ने 21 रन देकर 2, फवाद अहमद ने 27 रन देकर 2 विकेट चटकाए। अंतरराष्ट्रीय क्रिकेटर विनय कुमार ने 11 ओवर गेंदबाजी की और 35 रन खर्च किए पर उन्हें सफलता हाथ नहीं लगी। पहले दिन का खेल खत्म होने तक पुडुचेरी ने पहली पारी में बगैर नुकसान के 62 रन बना लिए थे। उस समय आनंद 39 और एस. कार्तिक 21 रन बनाकर क्रीज पर थे। पहली पारी के आधार पर बिहार 111 रनों से आगे है।

बिहार क्रिकेट एसोसिएशन को हरसंभव मदद करेंगे : खेल मंत्री

जागरण संवाददाता, पटना : रणजी मुकाबले से पूर्व सोमवार को सुबह मोइनुल हक स्टेडियम पहुंचे खेल मंत्री प्रमोद कुमार ने बताया कि बिहार क्रिकेट एसोसिएशन को बड़ा अवसर मिला है। यह राज्य के लिए गर्व की बात है। बीसीए को सरकार हरसंभव मदद करेगी, जिससे बिहार में क्रिकेट का समुचित विकास हो सके। खेल मंत्री के साथ बिहार सरकार के स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय, बीसीए अध्यक्ष राकेश कुमार तिवारी, उपाध्यक्ष दिलीप सिंह, सचिव संजय कुमार, संयुक्त सचिव कुमार अरविंद, कोषाध्यक्ष आशुतोष नंदन सिंह, जिला संघो के प्रतिनिधि संजय कुमार सिंह ने दोनों टीमों के खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त किया। बीसीए अध्यक्ष ने कहा कि राज्य में क्रिकेट का विकास होगा। इसके लिए बीसीए की पूरी कमेटी प्रतिबद्ध है। बीसीए सचिव संजय कुमार ने कहा कि बरसात के कारण जो स्थिति मोइनुल हक स्टेडियम की हो गई थी, उससे मुझे उम्मीद नहीं थी कि, स्टेडियम में मैच का आयोजन हो पाएगा। हम सबों ने स्टेडियम में मैच कराने को मिशन मोड में लिया। सरकार के द्वारा भी अपेक्षित सहयोग मिला।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस