फुलवारीशरीफ : गोपालपुर थाना के मनोहरपुर कछुआरा गांव में रविवार की रात वृद्ध किसान दंपती को बंधक बनाकर बदमाशों ने डकैती की को अंजाम देकर फरार हो गए। दंपती के शोर मचाने पर जुटी ग्रामीणों की भीड़ से बचने के लिए डकैत एक बाइक छोड़कर फरार हो गए। सूचना मिलने पर पहुंची पुलिस बाइक जब्त कर मामले की छानबीन में जुटी है। थानेदार अभिषेक रंजन ने बताया कि मोबाइल लोकेशन व आसपास के सीसीटीवी कैमरों को खंगाला जा रहा है। डकैत स्थानीय थे।

डकैतों ने लगाई आवाज, तुम्हारा बेटा बीमार है

बिरेंद्र कुमार अपनी पत्नी देवंती देवी के साथ मनोहरपुर कछुआरा में अकेले रहते हैं। गांव में ही उनका बेटा रहता है। रविवार की देर रात तीन बाइक से छह की संख्या में डकैत पहुंचे और बिरेन्द्र कुमार को आवाज लगाई कि तुम्हारा बेटा संजीव काफी बीमार है। इसके बिरेंद्र कुमार ने दरवाजा खोल दिया। दरवाजा खोलते ही सभी डकैत घर में घुस गए। बिरेंद्र कुमार ने बताया कि सभी के हाथ में पिस्टल और लोहे की राड थी। घर में घुसते ही डकैत बिरेंद्र कुमार और पत्नी देवंती देवी को हथियार का भय दिखाकर बंधक बना लिया। आलमारी की चाबी देने से इन्कार करने पर बदमाश दंपती को पीटकर जख्मी कर दिया। डकैतों ने घर में रखे 70 हजार नकदी और डेढ़ लाख का जेवर लूटकर फरार हो गए। डकैत जैसे ही बाहर निकले दंपती ने शोर मचाया। आसपास के घरों से भी शोर होने लगी और ग्रामीण जुटने लगे। ग्रामीणों को जुटते देख बदमाश फरार भागने लगे। इसी दौरान बदमाश की एक बाइक स्टार्ट नहीं हुई तो उसे छोड़कर फरार हो गए। बाइक मैनपुरा के राकेश कुमार के नाम पर रजिस्टर्ड है।

Edited By: Jagran