राज्य ब्यूरो, पटना : सूबे के पूर्व उप मुख्यमंत्री और राज्यसभा सदस्य सुशील कुमार मोदी ने सोमवार को ट्वीट कर कहा कि राष्ट्रीय जनता दल (राजद) प्रमुख लालू प्रसाद और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव दोनों ने अब तक कोरोना का टीका नहीं लिया। यह दोनों अपने अपने-अपने अंदाज में कोरोना टीका के प्रति अविश्वास और भ्रम फैलाने की निगेटिव ब्रांडिंग कर लाखों गरीब-पिछड़े-ग्रामीण समर्थकों की जान जोखिम में डालने की कीमत पर राजनीति कर रहे हैं। इसके साथ ही बीजेपी नेता सुशील मोदी ने तंज करते हुए कहा कि जिन लालू से अखिलेश आज मिल रहे हैं उन्हीं ने कभी मुलायम सिंह यादव का प्रधानमंत्री बनने का सपना तोड़ दिया था। 

मुलाकात की पर मास्क नहीं लगाया

सुशील मोदी ने कहा कि दिल्ली में उनकी मुलाकात की जो खुशनुमा तस्वीर जारी की गई है, उसमें दोनों ने मास्क नहीं लगा रखा है। दूसरी तरफ यही लोग देश के टीकाकरण अभियान पर तरह-तरह के बेतुके सवाल उठाकर गरीबों के हमदर्द बनतेे हैं। लालू प्रसाद और अखिलेश यादव अपने अपने प्रदेश में एक-दूसरे की पार्टी के पैर जमने नहीं देते। लालू प्रसाद ने कभी अखिलेश के पिता मुलायम सिंह यादव को प्रधानमंत्री बनने से रोक दिया था। राजद ने 2015 के बिहार विधानसभा चुनाव में सपा को केवल चार सीट देकर मुलायम सिंह का अपमान किया था। गौरतलब है कि सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव ने अबतक कोरोना वैक्सीन नहीं ली है, जबकि उनके पिता व उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायत सिंह यादव कोरोना का टीका ले चुके हैं। 

चिकित्सा विज्ञानियों पर भरोसा करना चाहिए

सुशील कुमार मोदी ने कहा कि कोरोना की तीसरी लहर का सामना करने के लिए केंद्र सरकार तीन माह में देश भर में ऐसे 50 माड्यूलर अस्पताल बनाएगी, जहां आइसीयू और आक्सीजन का इंतजाम होगा। इसके साथ 12 से 18 साल तक के बच्चों के लिए जल्द टीका उपलब्ध कराने के लिए परीक्षण जारी हैं। हमें गैर जिम्मेदार विपक्षी नेताओं के बयान से ज्यादा अपने चिकित्सा विज्ञानियों पर भरोसा करना चाहिए। 

Edited By: Akshay Pandey