पटना, जेएनएन। मुजफ्फरपुर जिले के राजद विधायक माहेश्वर यादव ने अपनी ही पार्टी और नेतृत्व पर बड़ा सवाल खड़ा कर दिया है। उन्‍होंने कहा कि पार्टी सही रास्ते पर नहीं चल रही है, इसलिए वह पार्टी के सभी कार्यक्रम से अलग रहते हैं। यहां तक कि सदस्यता अभियान में भी वह भाग नहीं ले रहे हैं।

उनका कहना है कि राजद भारी भटकाव की हालत में है। इस दौरान उन्होंने इशारों-इशारों में तेजस्वी यादव पर भी जमकर हमला बोला है। इसके कई मतलब निकाले जा रहे हैं। 

माहेश्वर यादव ने तंज कसते हुए कहा कि पार्टी को सक्षम नेतृत्व देने वाले नेता उपेक्षित हैं और कम योग्यता वाले नेता पार्टी चला रहे हैं और यही वजह है कि पार्टी पर परिवारवाद हावी है। उन्होंने कहा कि उपचुनाव के बाद राज्य की राजनिति में बड़ा बदलाव हो सकता है।

उन्‍होंने कहा कि राजद के अधिकतर विधायक उनके साथ हैं।  इस दौरान राजद विधायक ने मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की शान में कशीदे भी पढ़ें और कहा कि देश भर के समाजवादी नेता नीतीश कुमार के नेतृत्व में आने को तैयार है।

राजद विधायक ने खुद भी जदयू में जाने का संकेत दिया और कहा कि  राद के वरिष्ठ नेता अब्दुल बारी सिद्दिकी और रघुवंश सिंह के भी अपने साथ होने का दावा किया।एक स्थानीय न्यूज चैनल से बात करते हुए माहेश्वर यादव नें कहा कि यूपी में मुलायम सिंह की पार्टी की तरह ही बिहार में लालू यादव की पार्टी भी फेल हो गई है।अब अगला विधानसभा चुनाव बीजेपी और जदयू, दोनों चुनाव में  अलग-अलग लड़ेंगे।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस