पटना, राज्य ब्यूरो। Bihar Politics: संत शिरोमणि रविदास की जयंती (Saint Ravidas Jayanti) के मौके पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए बिहार विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Leader of opposition in Bihar Legislative Assembly Tejaswi Yadav) ने निजी क्षेत्र में भी आरक्षण (Reservation in private sector) की मांग की। उन्होंने केंद्र सरकार पर संविधान के साथ आरक्षण को भी खत्म करने का आरोप लगाया और कहा कि जिन सरकारी संस्थानों में आरक्षण लागू है, उन्हें निजी हाथों में बेचा जा रहा है। रविदास चेतना मंच के तत्वावधान में कार्यक्रम का आयोजन राजद (RJD) नेता तेजस्वी यादव के सरकारी आवास में किया गया था। अध्यक्षता पूर्व मंत्री शिवचंद्र राम ने की और संचालन सूबेदार दास ने किया।

केंद्र और राज्‍य सरकार को बताया आरक्षण विरोधी

तेजस्वी यादव ने कहा कि हमारी सरकार होती तो अधिकतर मांगें पूरी हो जाती। केंद्र एवं राज्य सरकार आरक्षण और दलित विरोधी है। राजद अगर सड़क पर नहीं उतरता तो एससी/एसटी एक्ट बदल दिया जाता। रेलवे, बीएसएनएल, एयर इंडिया जैसे अधिकतर उपक्रमों का निजीकरण किया जा रहा है।

रविदास की परंपरा को आगे बढ़ा रहे हैं लालू यादव

राजद के राष्ट्रीय महासचिव भोला यादव ने कहा कि संत रविदास, अंबेडकर, लोहिया, ज्योतिबा राव फुले एवं महात्मा गांधी ने जिस लड़ाई की शुरुआत की, उसे लालू प्रसाद लड़ते आ रहे हैैं। इसी का नतीजा है कि उन्हें यातनाएं झेलनी पड़ रही हैं। कार्यक्रम को पूर्व स्पीकर उदय नारायण चौधरी एवं राजद के प्रदेश प्रधान महासचिव आलोक मेहता ने भी संबोधित किया। शिवचंद्र राम ने कहा कि लालू प्रसाद के संघर्ष का ही नतीजा है कि समाज में दलितों को उभरने का मौका मिला।

कार्यक्रम को इन्‍होंने भी किया संबोधित

कार्यक्रम को संबोधित करने वालों में राष्ट्रीय प्रवक्ता नवल यादव, विधायक सतीश कुमार दास, रणविजय साहू, सुरेंद्र राम, संगीता देवी, राजेंद्र राम, सुबेदार दास, लालबाबू राम, चंदन राम, मुकेश रौशन, मनोज यादव, आरती देवी एवं प्रमोद कुमार सिन्हा सहित कई थे।

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप