पटना [राज्य ब्यूरो]। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के प्रति लंबी अवधि बाद सोमवार को पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने कोई सकारात्मक बात कही। राजनीतिक गलियारे में देर शाम राबड़ी देवी का यह वक्तव्य चर्चा में आ गया। राबड़ी देवी ने कहा कि महागठबंधन में अगर फिर से नीतीश शामिल होते हैैं तो उन्हें कोई ऐतराज नहीं।

पर साथ में राबड़ी ने यह भी जोड़ा कि यह निर्णय महागठबंधन के शीर्ष नेताओं को करना है। वहीं राजद के वरिष्ठ नेता रघुवंश प्रसाद सिंह ने दो कदम आगे बढ़ते हुए यह कहा डाला कि उन्होंने लिखित रूप से थोड़े यह कहा है कि महागठबंधन के दरवाजे नीतीश कुमार के लिए बंद हो गए। भाजपा को पछाडऩे के लिए सभी को एक साथ आना चाहिए।

पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी के इफ्तार में शामिल होकर लौटते समय  राबड़ी देवी ने पत्रकारों से बातचीत में उक्त बात कहीं। वैसे इफ्तार में नीतीश कुमार के शामिल होने के पहले वह निकल गईं।

रघुवंश प्रसाद सिंह ने कहा कि भाजपा को हराने के लिए एक साथ आने की जरूरत है। यह आवश्यक नहीं कि हम लोगों को छांटे और चुने। मालूम हो कि रघुवंश ने एक बार यह कहा था कि नीतीश कुमार के लिए महागठबंधन के दरवाजे बंद हो गए हैैं।

उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार के बारे में यह कोई भविष्यवाणी नहीं कर सकता कि वह कब अपना पक्ष बदलेंगे। यह कई बार हुआ है।

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Kajal Kumari

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप