पटना। इंटरमीडिएट परीक्षा के आर्ट्स व साइंस के पहले पांच रैंक तक आने वाले टॉपर आज अपनी योग्यता साबित करने के लिए परीक्षा दी। लिखित परीक्षा के साथ उनका इंटरव्यू भी लिया गया। हैंडराइटिंग का मिलान किया गया। बिहार विद्यालय परीक्षा समिति (बिहार बोर्ड) के कार्यालय में दोपहर बाद तीन बजे से देर रात तक यह प्रक्रिया जारी रही। आर्ट्स टॉपर रूबी को छोड़कर सभी टॉपर्स इसमें शामिल हुए।

पूरी प्रक्रिया से गुरने के बाद बाहर निकले परीक्षार्थियों के चेहरे पर तनाव साफ दिख रहा था। एकाध के चेहरे पर संतुष्टि के भाव भी दिखे। एक टॉपर के अभिभावक ने आरोप लगाया कि बिहार बोर्ड ने अपनी नाकामी छिपाने के लिए टॉपर्स का टॉर्चर किया।

पूरी जांच के बाद जारी होगा रिजल्ट

टॉपर्स की जांच से जुड़ी रिपोर्ट को एक्सपर्ट्स ने देर रात बिहार बोर्ड को सौंप दिया। इसके बाद निर्णय बोर्ड की कदाचार कमेटी करेगी। फिर, टॉपरों के रिजल्ट के बारे में फैसला किया जाएगा। बिहार बोर्ड के अध्यक्ष प्रो.लालकेश्वर प्रसाद सिंह ने कहा कि पूरी जांच के बाद दोषियों पर निश्चित और कड़ी कार्रवाई की जाएगी।

विशेषज्ञ ले रहे टॉपर्स की परीक्षा

आर्ट्स व साइंस स्ट्रीम के टॉपर्स से हर विषय से पांच-पांच सवाल किए गए। इसके लिए 25 सवालों के सेट तैयार किए गए थे। लिखाई की जांच करने के लिए उनसे एक निबंध भी लिखवाया गया। कमेटी में तीन अध्यापक शामिल किए गए। कमेटी में पटना और मगध यूनिवर्सिटी के 12 प्रोफेसर भी शामिल थे। इन 15 एक्सपर्ट्स ने ही टॉपर्स की परीक्षा ली।

ये थे एक्सपर्ट्स

- प्रो. शरदेन्दु ( हिंदी विभागाध्यक्ष, पटना कॉलेज)

- प्रो. विनोद कुमार मंगलम (हिंदी विभागाध्यक्ष, कॉमर्स कॉलेज)

- प्रो. वारसी (अंग्रेजी विभाग, वाशिंगटन यूनिवर्सिटी, यूएसए)

- प्रो. राजकिशोर प्रसाद (प्राचार्य, बीएन कॉलेज)

- प्रो. रजनीश कुमार (रसायन विज्ञान, पटना साइंस कॉलेज)

- प्रो. परिमल खान (जीवविज्ञान विभाग, पटना साइंस कॉलेज)

- प्रो. एसबी राय (गणित विभाग, बीएन कॉलेज, पटना)

- प्रो. सुरेन्द्र कुमार, (इतिहास विभागाध्यक्ष, पटना कॉलेज)

- प्रो. आरएन पांडे (अर्थशास्त्र विभाग, कॉलेज ऑफ कॉमर्स)

- प्रो. खालिद (समाज शास्त्र विभाग, कॉलेज ऑफ कॉमर्स)

- डॉ राजीव रंजन सिन्हा (भूगोल प्राचार्य, बाल्डविन एकेडमी)

- गोविंद झा (शिक्षा निदेशक)

- राजा राम प्रसाद (पूर्व प्राचार्य, जिला स्कूल, गया)

बोर्ड आॅफिस में मिली शराब की बोतलें

एक तरफ टॉपर्स की जांच को लेकर गहमागहमी का माहौल था तो दूसरी तरफ बोर्ड ऑफिस परिसर में शराब की बोतलें मिलने से सनसनी फैल गई। ऑफिस का गार्ड शराब की खाली बोतल लेकर फेंकने के लिए भागा, लेकिन उसकी हरकत कैमरे में कैद हो गई।

जांच के बाद ये बोले टॉपर...

जांच के लिए 13 टॉपर्स बोर्ड आफिस पहुंचे। इनमें पूरे विवाद के केंद्र में रहे दो टाॅपर्स में से एक सौरभ श्रेष्ठ तो पहुंचा, लेकिन दूसरी रूबी रॉय नहीं आई। आइए देखें कुछ टॉपरों की बात...

दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा : सौरभ

मेरिट को लेकर विवाद के बाद पुनर्परीक्षा दे दी है, परिणाम में दूध का दूध, पानी का पानी हो जाएगा। इतना कहते हुए पिता के साथ गाड़ी में बैठकर विवादित वैशाली के विशुन राय कॉलज इंटर साइंस टॉपर सौरभ श्रेष्ठ चला गया।

असली टॉपर सामने आएंगे : अंशुमान

इंटर साइंस टॉपर व बेगूसराय निवासी अंशुमान मसकरा ने बताया कि बिहार विद्यालय परीक्षा समिति ने पुनर्परीक्षा लेकर अच्छा किया है। इससे असली टॉपर सामने आएंगे। हालांकि, इस प्रक्रिया में काफी परेशानी का सामना करना पड़ा, लेकिन मैं इससे खुश हूं।

हर सवाल का जवाब दिया : खुशबू

इंटर आर्ट्स की थर्ड टॉपर खुशबू कुमारी ने बताया कि बोर्ड के हर प्रश्न को जबाव देने को तैयार थी। कोई कहीं से प्रश्न करे, फर्क नहीं पड़ता। उसने बताया कि लिखित परीक्षा में नारी सशक्तिकरण पर निबंध लिखने को कहा गया।

सभी जवाब दिए : तैयबा

सहरसा की इंटर आर्ट्स की चौथी टॉपर तैयबा परवीन ने कहा कि परीक्षा में लिखित व मौखिक परीक्षा पूछे गए थे, जिसका जवाब दे दिया।

रूबी बीमार, नहीं आ रही बोर्ड

वैशाली के विशुन राय कॉलेज के उपनिदेशक नंदकिशोर राय बोर्ड ऑफिस पहुंचे। उन्होंने आर्ट्स टॉपर रूबी के बीमार होने की जानकारी दी। कहा कि वो बोर्ड की जांच में शामिल नहीं हो सकेगी। उन्होंने रूबी के पास मेरिट होने का दावा करते हुए कहा कि वह मीडिया के सामने डर गई थी इस कारण सवालों के गलत जवाब दे बैठी। वह अभी डिप्रेस्ड है, बाद में आकर जांच परीक्षा देगी।

बुलाए गए आर्ट्स व साइंस के टॉप 5 रैंकर्स

परीक्षा के लिए विशुन राय कॉलेज के सभी टॉपरों के साथ आर्ट्स और साइंस स्ट्रीम के पांच-पांच टॉपरों को बुलाया गया था। इनसे लिखित परीक्षा में संबंधित विषयों के चुनिंदा सवाल पूछे गए। हैंडराइटिंग और लिखने के पैटर्न को समझा गया। फिर उनका साक्षात्कार हुआ।

विशुन राय कॉलेज के सभी टॉपर तलब

टॉपरों की सूची में विशुन राय कॉलेज के चार विद्यार्थी हैं। रूबी राय आर्ट्स में टॉपर है। शेष तीन सौरभ श्रेष्ठ, राहुल कुमार एवं शिवानी सिंह साइंस टॉपर हैं। बोर्ड ने इस कॉलेज के सभी टॉपरों को तलब किया।

इस कारण खड़ा हुआ विवाद

विदित हो कि इंटर आर्ट्स की टॉपर वैशाली की विशुन रॉय कालेज की रूबी राय और विज्ञान टॉपर सौरभ श्रेष्ठ को लेकर यह विवाद विवाद खड़ा हुआ है। रूबी ने मीडिया को इंटरव्यू में बताया कि पॉलिटिकल साइंस में खाना बनाने की पढ़ाई होती है। उसे यह भी पता नहीं था कि उसने कुल कितने अंकों की परीक्षा दी थी। इसी तरह साइंस टॉपर सौरभ को इलेक्ट्रॉन व प्रोटॉन के संबंध में मूलभूत जानकारी नहीं थी।

मीडिया में इसकी खबर आने के बाद जब ऐसे टॉपर्स को लेकर विवाद होने लगा तो बोर्ड ने यह फैसला किया।

टॉपर्स जिन्हें किया गया तलब

आर्ट्स

1 - रूबी राय

2 - कृति भारती

3 - खुशबू कुमारी

4 - तैयबा परवीन

5 - तस्नीम जहान

साइंस

1 - लोक चंद्र

2 - अंशुमान मसकरा

3 - सौरभ श्रेष्ठ

4 - अंकित राज

5 - राहुल कुमार

6 - हर्ष कांत

7 - महिमा मणि

8 - अभिषेक कुमार

9 - शिवानी सिंह

Posted By: Kajal Kumari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस