पटना । प्रमंडलीय आयुक्त संजय कुमार अग्रवाल ने तीन दिनों में महेंद्रू घाट पर पीपा पुल को तैयार करने का निर्देश दिया है। कलेक्ट्रेट घाट, राजापुर पुल घाट, बास घाट, अंटा घाट एवं महेंद्रू घाट का उन्होंने शुक्रवार को निरीक्षण किया। अधिकारियों को निर्देश दिया कि 15 दिनों तक कार्य योजना के साथ अत्याधिक मेहनत कर छठ महापर्व को सफलतापूवर्क संपन्न कराएं।

प्रमंडलीय आयुक्त ने कलेक्ट्रेट घाट पर पाया कि कार्य की अधिकता के अनुरूप कर्मियों की संख्या काफी कम है। सफाई कार्य के लिए मजदूरों को बढ़ाने का निर्देश दिया। नगर आयुक्त से कहा कि छठव्रतियों के गंगा नदी के जल स्तर तक पहंचने के लिए तेजी से सुगम मार्ग बनाएं। बास घाट के निरीक्षण के क्रम में आयुक्त ने बिहार राज्य पथ निगम के उप महाप्रबंधक को निर्देश दिया कि बास घाट के एप्रोच पथ पर पानी है, उसे ठीक किया जाए। महेंद्रू घाट के प्रवेश द्वार के पास फटे गंदे पानी की पाइप को ठीक करने का उन्होंने निर्देश दिया।

प्रमंडलीय आयुक्त ने नगर आयुक्त को निर्देश दिया कि घाट की बाउंड्री को चिह्नित करें। घाट की पहचान के लिए फ्लैक्स लगाएं। घाट के एप्रोच पथ की समतलीकरण एवं ठोकर को ठीक कराएं। घाट के पाथवे की आवश्यकतानुसार मरम्मति एवं सफाई की पूर्ण व्यवस्था करें। खतरनाक घाटों को चिन्हि्त करें। गंगा नदी के घाटों पर जाने वाले पहुंच पथ का चिन्हि्त करें। पहुंच पथों एवं घाटों पर पर्याप्त रौशनी की व्यवस्था करें। रात्रि में भी काम करने के लिए घाटों पर जेनरेटर की व्यवस्था करें। आयुक्त ने जलसंसाधन विभाग के अधीक्षण अभियंता को निर्देश दिया कि खतरनाक घाटों को चिन्हि्त करने में प्रशासन की मदद करें तथा गंगा नदी के जल स्तर के संबंध में दैनिक प्रतिवेदन उपलब्ध कराएं। निरीक्षण के क्रम में जिलाधिकारी कुमार रवि, उप विकास आयुक्त सुहर्ष भगत, नगर आयुक्त अमित कुमार पांडेय आदि मौजूद थे।

---जलजमाव से निपटने को कार्य योजना बनाकर करें कार्य---

प्रमंडलीय आयुक्त ने कहा कि जल जमाव के रूप में पटना को नयी चुनौतिया मिली हैं। इससे निपटने के लिए सभी को बेहतर कार्य योजना बनाकर कार्य किया जाएगा। डेंगू के प्रकोप से सामना करने के लिए सिविल सर्जन को निर्देश दिया कि ब्लीचिंग पाउडर एवं लार्वानासी के छिड़काव कराएं। उन्होंने कहा कि ब्लीचिंग पाउडर एवं लार्वानासी का छिड़काव पटना नगर निगम के सभी 75 वाडरें में तथा दानापुर नगर परिषद के 40 वाडरें में नियमित रूप से हो रहा है कि नहीं इसके औचक निरीक्षण के लिए विशेष निगरानी टीम गठित की जाएगी।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप