राज्य ब्यूरो, पटना। लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष चिराग पासवान के जदयू के प्रति तल्ख अंदाज पर चुप्पी साधते हुए लोजपा के संस्थापक अध्यक्ष व केंद्रीय मंत्री रामिवलास पासवान ने गुरुवार को साफ-साफ कहा कि वह चिराग के हर फैसले के साथ हैं। बिहार संसदीय बोर्ड की गुरुवार को होने वाली बैठक के ठीक पहले रामविलास पासवान ने यह बात कही। उन्होंने साफ-साफ यह कहा कि चिराग बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर जो फैसला लेंगे वह उन्हें मान्य होगा।

रामविलास ने कहा कि पार्टी में अब चिराग ही सब कुछ हैं। मेरा कुछ वश नहीं चलता। पार्टी अपने अध्यक्ष अैार संसदीय बोर्ड के हिसाब से चलती है। चिराग लोजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष हैं। पार्टी को लेकर  निर्णय लेने का उन्हें अधिकार है। रामविलास पासवान ने अपनी बात करते हुए कहा कि उनके नेता तो प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी हैं। उन्होंने गरीबों के लिए काफी काम किए हैं। नीतीश कुमार के बारे में उन्होंने  कुछ भी नहीं कहा।

रामविलास पासवान के इस वक्तव्य के बाद अब यह साफ है कि लोजपा अैार जदयू के बीच सीटों को लेकर चल रही तल्खी अभी अैार आगे बढ़ेगी। यह भी साफ है कि लोजपा एक तय नीति के तहत इस प्रकरण को आगे बढ़ाएगी। रामविलास पासवान सहित पूरी पार्टी भाजपा के साथ अपने पुराने गठबंधन की बात करते हुए सीटों की बात करेगी। यह भी तय है कि अब आने वाले समय में लोजपा कॉमन मिनिमम प्रोग्राम का मामला आगे बढ़ाएगी। 

गौरतलब है कि लोजपा के संसदीय दल की बैठक दिल्‍ली में हैं। बताया जाता है कि इसमें बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर लोजपा महत्‍वपूर्ण निर्णय ले सकती है। हालांकि पिछले कुछ दिनों से चिराग पासवान के नाराज रहने की बात कही जा रही थी। बाद में चिराग पासवान ने मीडिया से कहा कि उन्‍हें नीतीश के चेहरे से कोई एतराज नहीं है, बस लोजपा को भी तरजीह मिले। पार्टी की अनदेखी न हो। 

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस