मोदी सरकार - 2.0 के 100 दिन

पटना [जेएनएन]। रक्षाबंधन के दिन रविवार को सावन माह खत्म हो गया। इस साल रविवार को पूरे दिन रक्षाबंधन का पर्व मनाया गया। बहनें अपने भाईयों को रक्षासूत्र बांधकर भाइयों की लंबी आयु की कामना कर रहीं। मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार, उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी तथा नेता प्रतिपक्ष तेजस्‍वी यादव सहित तमाम नेताओं ने जनता को रक्षा बंधन की शुभकमानाएं दीं।
पूरे दिन बांधी गई राखी
खास बात यह कि इस बार रक्षाबंधन के दिन भद्रा का साया नहीं पड़ा। रविवार को सवार्थ सिद्धि योग का संयोग बन रहा। चार साल बाद ऐसा राजयोग बना। आज बहनें पूरे दिन राखी बांधतीं रहीं। रक्षाबधंन के दिन भद्रा का साया सूर्योदय के पूर्व ही खत्म हो गया था। ऐसे में  पूरे दिन राखी बांधने का शुभ समय रहा।
ब्रह्मकुमारी बहनों ने  मुख्यमंत्री को बांधी राखी
प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की बहनों ने रविवार को मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को राखी बांधी। ईश्वरीय विश्वविद्यालय के एक प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से उनके सात सर्कुलर रोड स्थित आवास पर भेंट की। रक्षाबंधन के बाद बहनों ने मुख्यमंत्री के यशस्वी, सुखद एवं सफल जीवन की कामना की। शिष्टमंडल ने मुख्यमंत्री को ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की गतिविधियों के बारे में जानकारी दी।
शिष्टमंडल में प्रजापिता ब्रह्मकुमारी ईश्वरीय विश्वविद्यालय की निदेशिका बीके संगीता बहन, अनिता बहन, रवींद्र भाई और सत्येंद्र भाई शामिल थे।
पूरे दिन रहा शुभ मुहूर्त
पटना के पंडित राकेश झा ने बताया कि सावन मास की पूर्णिमा तिथि 25 अगस्त की शाम 3.16 बजे से आरंभ हो गई थी। 26 अगस्त की शाम 5.25 बजे सावन मास का समापन हुआ। रविवार की सुबह 7:43 बजे से 9:18 बजे तक, सुबह 9:18 बजे से लेकर 10:53 बजे तक लाभ और सुबह 10:53 बजे से लेकर 12:28 बजे तक अमृत मुहूर्त का समय था। आगे दोपहर 2:03 बजे से लेकर 3:38 बजे तक, शाम 6:48 बजे से लेकर 8:13 बजे तक तथा रात 8:13 बजे राखी बांधने का समय रहा।

राशि के अनुसार राखी

- मेष: लाल, केसरिया या पीला रंग की राखी ,                                           

- वृष: नीले रंग या चांदी की राखी

- मिथुन: हरे रंग की राखी                                                                         

- कर्क: सफेद धागे या मोती से निर्मित राखी

- सिंह: गुलाबी, लाल या केसरिया रंग की राखी                                       

- कन्या: सफेद या हरे रंग की राखी

- तुला: फिरोजी या जमुनी रंग की राखी                                                   

- वृश्चिक: लाल रंग की राखी

- धनु: पीले रंग की राखी                                                                             

- मकर: गहरे लाल रंग की राखी

- कुम्भ: रुद्राक्ष से निर्मित राखी                                                               

- मीन: पीला या सफेद रंग की राखी

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप