पटना [जेएनएन]। कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी की मुश्किलें कम होती नहीं दिख रहीं। मोदी टाइटिल वालों को चोर बताने वाले उनके बयान को लेकर उनके खिलाफ मुकदमों का सिलसिला जारी है। इस कड़ी में पूर्णिया के मुख्‍य न्‍यायिक दंडाधिकारी (सीजेएम) कोर्ट में बुधवार को परिवाद दायर किया गया, जिसपर गुरुवार को सुनवाई होगी। इसके पहले उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी ने भी उनके खिलाफ मुकदमा दायर किया है। राहुल गांधी के खिलाफ दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में भी जोगिंद तुली नामक व्‍यक्ति ने मुकदमा दायर किया है।

यह है मामला
विदित हो कि राहुल गांधी ने बीते 13 अप्रैल को बंगलुरु से कुछ दूर स्थित कोलार में अपनी एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए चाेरों के उपनाम मोदी होने को लेकर सवाल किया था। उन्होंने इस बात को कई बार दोहराया। मीडिया ने उनकी बात को प्रमुखता दी। इस घटना को लेकर राहुल गांधी के खिलाफ कई मुकदमे दर्ज किए गए हैं।

पूर्णिया में मुकदमा दर्ज, सुनवाई आज
पूर्णिया के कसबा के मोदी टोला निवासी मनोज कुमार मोदी ने भी इसी सिलसिले में राहुल गांधी के खिलाफ परिवाद दायर किया है। परिवाद में उन्‍होंने राहुल गांधी के कर्नाटक में दिए बयान का उल्‍लेख करते हुए कहा है कि मोदी समुदाय को चोर कहने से मोदी समाज आहत है। राहुल गांधी ने जनसभा में कहा था कि चोरों के उपनाम मोदी हैं। यह मोदी समुदाय के प्रति गलत धारणा बनाने की कोशिश है। मनोज कुमारमोदी के इस परिवाद पर गुरुवार को सुनवाई होगी।

सुशील मोदी भी दर्ज करा चुके मुकदमा
इसके पहले राहुल गांधी के खिलाफ बिहार के उपमुख्‍यमंत्री सुशील मोदी भी पटना के सीजेएम कोर्ट में मुकदमा दर्ज करा चुके हैं। सुशील मोदी ने अपनी अर्जी में राहुल गांधी पर आरोप लगाया है कि उनके भाषण से मोदी समुदाय की छवि धूमिल हुई है। यह एक आपराधिक कृत्य है, जिसकी सजा राहुल गांधी को मिलनी चाहिए।

मुकदमे में आरोप सही पाए जाने पर राहुल गांधी को दो साल की सजा हो सकती है।

दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में वाद दायर
राहुल गांधी की मुश्किलें यहीं खत्म नहीं होतीं। उनके खिलाफ दिल्ली के पटियाला हाउस कोर्ट में भी जोगिंद तुली नामक व्‍यक्ति ने आपराधिक मुकदमा दायर किया है।

Posted By: Amit Alok

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप