पटना [जेएनएन]। आगामी लोकसभा चुनाव में केंद्र की नरेंद्र मोदी सरकार को शिकस्‍त देने के लिए कांग्रेस अध्‍यक्ष राहुल गांधी बड़े प्‍लान पर काम कर रहे हैं। उनके अनुसार भाजपा व आरएसएस को शिकस्‍त देने के लिए वे महागठबंधन में प्रधानमंत्री प्रत्‍याशी बनने की दावेदारी छोड़ने के लिए भी तैयार हैं। सूत्र बताते हैं कि कांग्रेस राहुल के बदले किसी क्षेत्रीय नेता को प्रधानमंत्री प्रत्‍याशी मानने को तैयार है।
राहुल के इस बयान से हाल ही में राजद नेता तेजस्‍वी यादव के उस बयान पर मुहर लगती दिख रही है, जिसमें उन्‍होंने राहुल गांधी को फिलहाल प्रधानमंत्री प्रत्‍याशी मानने से इनकार कर दिया था।

कांग्रेस महागठबंधन में सबसे बड़ा दल है। कांग्रेस अध्‍यक्ष ने संकेत दिए हैं कि भाजपा व आरएसएस को हराने के लिए प्रधानमंत्री पद प्रत्‍याशी होने का दावा छोड़ने के लिए तैयार हैं। सूत्र बताते हैं कि इसके लिए महागठबंधन के किसी क्षेत्रीय नेता को आगे किया जा सकता है। अब यह नेता कौन होगा, इसपर कायासबाजी शुरू है।

तेजस्‍वी ने कही थी ये बात
विदित हो कि बिहार विधानसभा में प्रतिपक्ष के नेता तथा राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव ने हाल ही में कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी को प्रधानमंत्री पद का प्रत्‍याशी मानने से इनकार कर दिया था। उन्‍होंने कहा था कि विपक्ष जिसे अपना पीएम उम्मीदवार मानेगा, वे उसका समर्थन करेंगे और साथ देंगे। जो संविधान बचाएगा, उसे समर्थन रहेगा। वे राहुल भी हो सकते हैं। तेजस्‍वी यादव ने कहा कि अभी प्रधानमंत्री प्रत्‍याशी कोई मुद्दा नहीं है।

इंडियन टी20 लीग

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस