पटना, जेएनएन। Raghuvansh Prasad Singh Death: बिहार के कद्दावर समाजवादी नेता व पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuvansh Prasad Singh Death) का रविवार को दिल्‍ली के अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्‍थान (Delhi AIIMS) में निधन हो गया। मौत से तीन दिन पहले ही उन्‍होंने राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) से इस्‍तीफा दे दिया था। अब उनकी मौत व आरजेडी से मोह भंग को लेकर राजनीति शुरू हो गई है। इसकी शुरुआत पूर्व मुख्यमंत्री और हिंदुस्तानी आवाम मोर्चा के अध्यक्ष जीतन राम मांझी (Jitan Ram Manjhi) ने की। उन्‍होंने रघुवंश प्रसाद सिंह की मौत के लिए सीधे लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) और उनके परिवार (Lalu Family) को जिम्‍मेदार बताया। कहा है कि बटों को स्‍थापित करने के लिए लालू ने रघुवंश की बलि ले ली। मांझी ने यह भी कहा कि तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) के बयान ने रघुवंश प्रसाद सिंह को इतना आहत किया कि उनकी माैत हो गई। इसके बाद लालू के लाल पर हर तरफ से हमले हो रहे हैं।

मांझी ने तेज प्रताप के संस्कार पर उठाए सवाल

जीतन राम मांझीने रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन का कारण तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) को बताया है। साथ ही यह सवाल भी पूछा है कि जब रघुवंश बाबू को श्रद्धांजलि देने तजस्‍वी यादव (Tejashwi Yadav) सहित तमाम लोग गए तो तेज प्रताप क्‍यों नहीं गए? उन्‍होंने कहा कि श्रद्धाजंलि देने नहीं जाना तेज प्रताप के संस्कार को दिखाता है। मांझी ने कहा कि तेज प्रताप ने रघुवंश प्रसाद सिंह के आरजेडी से जाने को तुलना समंदर से एक लोटा पानी निकलने से करते हुए कहा था कि इतना पानी निकलने से समंदर को कोई फर्क नहीं पड़ता। रघुवंश प्रसाद इससे इतने आहत हुए कि मौत हो गई। मांझी ने कहा कि रघुवंश प्रसाद सिंह का निधन नहीं हुअा है, बल्कि लालू परिवार के ने उनकी साजिशन हत्या कर दी है।

कहा: बेटों के लिए वरिष्ठ नेताओं की बलि चढ़ा रहे लालू

जीतनराम मांझी ने रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन पर शोक प्रकट करे हुए यह भी कहा कि रघुवंश प्रसाद सिंह के इस हालत के लिए लालू परिवार जिम्‍मेदार है। लालू प्रसाद यादव अपने बेटों तेजस्वी यादव (Tehashwi Yadav) तथा तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) को स्थापित करने के लिए आरजेडी के वरिष्ठ नेताओं की बलि चढ़ा रहे हैं। जीतन राम मांझी ने आगे आरोप लगाया कि रघुवंश प्रसाद सिंह के निधन के लिए तेज प्रातप के साथ लालू प्रसाद यादव और उनके परिवार के सभी लोग जिम्‍मेदार हैं।

बीजेपी ने भी तेज प्रताप यादव पर किया हमला

जीतन राम मांझी के बाद भारतीय जनता पार्टी नेता प्रेम रंजन पटेल ने भी कहा कि तेज प्रताप के बयान से रघुवंश प्रसाद सिंह बहुत आहत हुए। रघुवंश प्रसाद आरजेडी सुप्रीमो लालू यादव से बड़े कद के नेता थे। ऐसे में तेज प्रताप का लोटा भर पानी वाला बयान उन्हें भारी सदमा दे गया।

बचाव में उतरा आरजेडी, कहा: बंद करें लाश पर राजनीति

उधर, तेज प्रताप यादव के बचाव में उतरे आरजेडी ने मांझी की जम कर खबर ली है। आरजेडी नेता मृत्युंजय तिवारी ने कहा है कि मांझी आज जिस गठबंधन में गए हैं, वहां के लोग पहले से ही मौत पर सियासत करते रहे हैं। पहले सुशांत सिंह राजपूत की मौत पर सियासत की, उसके बाद अब रघुवंश प्रसाद सिंह की मौत पर सियासत कर रहे हैं। उन्‍होंने कहा कि रघुवंश प्रसाद सिंह आरजेडी के लिए गरिमा की बात रहे हैं, उनपर सियासत नहीं करना चाहिए।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस