पटना [जेएनएन]। राष्‍ट्रीय स्‍वयंसेवक संघ (RSS) तथा उसके अनुषंगी संगठनों की कुंडली खंगालने वाले स्पेशल ब्रांच की इंटेलिजेंस विंग के पत्र का मामला गरमा गया है। इससे मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) नाराज बताए ज रहे हैं। इस बीच बिहार विधन परिषद में नेता प्रतिपक्ष तथा राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) नेता राबड़ी देवी (Rabri Devi) ने बड़ा बयान दिया है। उन्‍होंने कहा है कि बिहार में आरएसएस की जड़ें नीतीश कुमार ने ही मजबूत की है। इस मामले में उन्‍होंने प्रधनमंत्री नरेंद्र मोदी (Narendra Modi) और अमित शाह (Amit Shah) से भी सवाल पूछने की बात कही।
यह है मामला
विदित हो कि बिहार में स्पेशल ब्रांच की टीम को आरएसएस समेत 19 संगठनों की कुंडली खंगालने का आदेश दिया गया। स्पेशल ब्रांच की इंटेलिजेंस विंग ने आरएसएस और उसके अनुषांगिक संगठनों के राज्य पदाधिकारियों के बारे में जानकारी इकट्ठा करने का आदेश दिया। स्पेशल  ब्रांच के एसपी का यह आदेश सुर्खियों में है। मामला गरमाया तो गृह विभाग ने अब जांच का अादेश दे दिया है। एडीजी जितेंद्र सिंह गंगवार ने भी सफाई दी है कि बगैर अनुमति एसपी ने पत्र जारी कर दिया। गृह विभाग ने विशेष शाखा से स्पष्टीकरण तलब कर लिया है। इस बीच मामले पर राजनीति गरमा गई है। राबड़ी देवी का बयान इसी की कड़ी है।
राबड़ी देवी ने कही ये बात
राबड़ी देवी ने आरएसएस की जांच के मुद्दे पर भारतीय जनता पार्टी (BJP) व जनता दल यूनाइटेड (JDU) के संबंधों पर सवाल उठाया। कहा कि बीजेपी और जेडीयू में प्रारंभ से ही खटपट है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने ही बिहार में आरएसएस की जड़ें मजबूत की हैं। उनके पास खुफिया जांच करने का अधिकार भी है। जो करना है, करें। इसमें दूसरे दलों को कुछ बोलने की जरूरत नहीं है।
आरएसएसकी जांच के मुद्दे पर राबड़ी ने कहा कि इसके बारे में बीजेपी ही बेहतर बता सकती है। यह सवाल प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और अमित शाह से पूछा जाना चाहिए।

Posted By: Amit Alok