पटना [जेएनएन]। राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) के पटना स्थित आवास पर रविवार को हाई वोल्टेज ड्रामा हुआ। लालू की बहू व तेज प्रताप यादव (Tej Pratap Yadav) की पत्‍नी ऐश्‍वर्या राय (Aishwarya Rai) अपनी सास राबड़ी देवी (Rabri Devi) पर घर से निकालने का आरोप लगाते हुए घर के बाहर धरना पर बैठ गईं। करीब 12 घंटे बाद पुलिस महानिदेशक (DGP) के हस्‍तक्षेप पर उन्‍हें देर रात घर में एंट्री मिली।

ऐश्‍वर्या ने माता-पिता के साथ ससुराल में दिया धरना

रविवार को लालू प्रसाद यादव की बहू ऐश्‍वर्या राय ने सास राबड़ी देवी पर ससुराल से निकालने का आरोप लगाया था। उन्‍होंने घर का गेट खुलवाने की नाकाम कोशिश की। इसके बाद वे माता-पिता के साथ घर के बाहरी भाग में आमरण अनशन व धरना पर बैठ गईंं। घरना के बीच से उठकर उनके पिता चंद्रिका राय (Chandrika Rai) डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) से मिलने गए। वहां से लौटने पर जब उन्‍हें धरना स्‍थल तक जाने की अनुमति नहीं दी गई तो वे गेट पर अलग से धरना पर बैठ गए।

लालू आवास पर हंगामा, लगे विरोध में नारे

इस बीच चंद्रिका राय के समर्थक भी जुट गए। धरना स्‍थल पर समर्थकों ने लालू-राबड़ी विरोधी नारे भी लगाए। चंद्रिका राय के परिवार ने ऐलान कर दिया था कि वे बेटी ऐश्‍वर्या के साथ उसकी ससुराल में एंट्री तक आमरण अनशन पर बैठे रहेंगे। लेकिन डीजीपी गुप्‍तेश्‍वर पांडेय के हस्‍तक्षेप से देर रात ऐश्‍वर्या राय को घर में एंट्री दे दी गई।

ऐश्‍वर्या नहीं चाहतीं तलाक

विदित हो कि चंद्रिका राय की बेटी ऐश्‍वर्या राय की शादी लालू प्रसाद यादव के बड़े बेटे तेज प्रताप यादव के साथ हुई है। शादी के छह महीने के भीतर ही तेज प्रताप यादव ने पत्‍नी से तलाक का मुकदमा दायर कर दिया। मुकदमा कोर्ट में लंबित है। तलाक के मुकदमे के बावजूद ऐश्‍वर्या राय ससुराल में ही रहतीं हैं। उनका कहना है कि अभी तलाक का मुकदमा हुआ है, तलाक नहीं। इसलिए वे ससुराल में ही रहेंगी। वे तलाक नहीं चाहती हैं। उनके अनुसार अगर उनके ससुर लालू प्रसाद यादव घर में होते तो समस्‍या का समाधान कर सकते थे।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस