पटना, एएनआइ। चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर ने शनिवार को बिहार के मुख्यमंत्री पर कटाक्ष किया। उन्होंने कहा कि नीतीश कुमार मुझसे नाराज नहीं हैं। उनका बोलने का एक तरीका है। मुख्यमंत्री से तो मेरे आत्मीय संबंध हैं। प्रशांत ने कहा कि हम लोग एक नारा सुनते आए हैं कि फेविकोल का जोड़ है, नहीं टूटने वाला। बिहार में तो हम लोगों ने कई तरह के जोड़ों को बनते और बिगड़ते हुए देखा है। हमने देखा कि नीतीश कैसे भाजपा के साथ थे, फिर छोड़ा, फिर साथ आए, फिर छोड़ा। प्रशांत ने कहा कि हर तरह के जोड़ बने और टूटे केवल एक ही जोड़ नहीं टूटा और वो मुख्यमंत्री की कुर्सी और नीतीश के बीच का है। प्रशांत ने कहा कि ऐसी बाजीगरी केवल नीतीश ही कर सकते हैं, इसलिए मैंने कहा कि फेविकोल को इन्हीं (नीतीश कुमार) को अपना ब्रांड एंबेसडर बना लेना चाहिए। 

नीतीश की बातों को कोई गंभीरता से नहीं लेता

नीतीश कुमार द्वारा प्रशांत किशोर का बीजेपी के लिए काम करने से जुड़े सवाल के जवाब में उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री की इन बातों को कौन गंभीरता से लेगा। 17 साल तक वो मुख्यमंत्री रहे। ज्यादातर समय नीतीश का बीजेपी के साथ बीता। ऐसे में नीतीश किसी दूसरे के बारे में बताएं कि कौन बीजेपी के साथ है और रह सकता है यह बात हास्यास्पद लगती है। 

Edited By: Akshay Pandey

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट