पटना, जागरण टीम। बिहार में कानून-व्‍यवस्‍था (Law and Order) से जुड़ी यह बुरी खबर है। अपराधियों ने भारतीय जनता पार्टी के प्रदेश प्रवक्‍ता (BJP State Spokesperson) अजफर शमशी (Azfar Shamshi) को मुंगेर में दिन-दहाड़े गोली मार कर घायल कर दिया। शमशी की स्थिति नाजुक लेकिन पहले से बेहतर है। उन्‍हें बेहतर इलाज के लिए पटना के एक निजी अस्‍पताल में भर्ती कराया गया है। इस बीच पुलिस ने शमशी के बयान के आधार पर उनके कॉलेज के प्रिंसिपल को गिरफ्तार कर लिया है। घटना से बिहार में सियासत गरमा (Politics Heats Up) गई है। कांग्रेस (Congress) से मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) से गृहमंत्री (Home Minister) का पद छोड़ने की मांग दुहराई है।

शमशी का कई लोगों से रहा है विवाद

अजफर शमशी के बेटे असद शमशी ने बताया कि उनके पिता का जमालपुर कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य ललन प्रसाद सिंह से विवाद चल रहा था। इसके अलावा आइटीसी वर्कर्स यूनियन के अध्यक्ष पद को लेकर भी विवाद था, जिसमें उन्‍हें हत्‍या की धमकियां मिलती रहती थीं। साथ ही पिता का अपने भाई आकिब अख्तर नजवी से दो दशक से विवाद है। कुछ अन्‍य लोगों से भी झगड़ा रहा है। मुंगेर के एसपी मानवजीत सिंह ढिल्लों ने बताया कि अजफर शम्शी के बयान के आधार पर उनपर हमले के लिए आरोपित जमालपुर कॉलेज के प्रभारी प्राचार्य ललन प्रसाद सिंह को गिरफ्तार कर लिया गया है। इसके अलावा अन्‍य संदिग्‍धों से भी पूछताछ की जा रही है।

मुंगेर में दिन-दहाड़े मार दी गई गोली

विदित हो कि अजफर शमशी बुधवार को मुंगेर के जमालपुर कॉलेज में पहुंचे ही थे कि कॉलेज गेट के समीप अज्ञात अपराधियों ने उन्‍हें गोली मार दी। शमशी के वाहन चालक के अनुसार अपराधियों की संख्‍या करीब 15-20 थी। घटना के बाद उन्‍हें आनन-फानन में मुंगेर सदर अस्पताल ले जाया गया, जहां प्रारंभिक इलाज के बाद उन्‍हें पटना रेफर कर दिया गया।

बीजेपी नेताओं ने घटना को बताया दुखद

इस बीच घटना के कारण बिहार में राजनीति गरमाती दिख रही है। बीजेपी के प्रदेश अध्यक्ष संजय जायसवाल ने घटना को दुखद बताया है। उन्‍होंने इस मामले में डीजीपी से बात की है। बिहार बीजेपी के प्रभारी और राष्ट्रीय महामंत्री भूपेंद्र यादव ने घटना की भर्त्‍सना की है। उन्‍होंने कहा है कि कानूनी शिकंजा कसने की बौखलाहट में अपराधी आपा खो रहे हैं। उपमुख्यमंत्री तार किशोर प्रसाद और रेणु देवी ने शमशी के स्वजनों से फोन पर बात कर हर संभव सहायता उपलब्‍ध कराने का भरोसा दिया है। स्वास्थ्य मंत्री मंगल पांडेय ने भी शमशी के स्वजनों और डॉक्टरों से बातचीत कर स्वास्थ्य संबंधी सुविधा मुहैया कराने के निर्देश दिए हैं।

पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील मोदी ने भी शमशी के स्वजनों से बातचीत कर हाल जाना है। उन्‍होंने आरोपितों की शीघ्र गिरफ्तारी का भरोसा दिया है।

बीजेपी के प्रदेश प्रवक्ता डॉ. रामसागर सिंह, संजय सिंह टाइगर, अखिलेश सिंह, डॉ. निखिल आनंद, अरविंद सिंह और प्रेमरंजन पटेल ने भी घटना की निंदा की है। प्रदेश मीडिया प्रभारी राजेश झा राजू, राकेश सिंह, अशोक भट्ट और संजय पांडेय ने भी आरोपितों की शीघ्र गिरफ्तारी की मांग की है।

कांग्रेस की मांग: गृहमंत्री का पद छोड़ें नीतीश

कानून-व्‍यवस्‍था के मुद्दे पर विपक्ष हमलावर हो गया है। कांग्रेस के प्रवक्‍ता राजेश राठौड़ ने कहा है कि राज्‍य के लोगों के लिए न सही, अपने राष्‍ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (NDA) के नेताओं की सुरक्षा के लिए ही सही, मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार गृहमंत्री का पद छोड़ दें। उनसे गृह विभाग नहीं संभल रहा है।

यह भी पढ़ें: बिहार भाजपा के प्रदेश प्रवक्‍ता को अपराधियों ने दिनदहाड़े मारी गोली, हालत गंभीर; एक गिरफ्तार

kumbh-mela-2021

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप