पटना [जेएनएन]। बिहार की राजनीति के लिए यह बड़ा सवाल है। लोकसभा चुनाव में हार की पार्टी स्तर पर समीक्षा करने के बाद 29 मई से गायब राष्‍ट्रीय जनता दल (RJD) नेता व विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष तेजस्वी यादव (Tejashwi Yadav) कब सामने आ रहे हैं? बताया जा रहा था कि वे शुक्रवार से शुरू विधानमंडल के मानसून सत्र (Monsoon Session) में मौजूद रहेंगे। लेकिन वे नहीं पहुंचे। अब कहा जा रहा है कि वे जल्‍दी ही आएंगे और मानसून सत्र में भी शामिल होंगे।
चुनावी हार के बाद से गायब हैं तेजस्‍वी
लोकसभा चुनाव में विपक्षी महागठबंधन की हार के बाद से तेजस्‍वी यादव गायब हैं। उनके बयान व ट्वीट भी नहीं आ रहे। इस बीच बिहार में इंसेफेलाइटिस (AES) से बड़े पैमाने पर बच्‍चों की मौत सहित जनता को प्रभावित करने वाली कई बड़ी घटनाएं हुईं हैं।
जेडीयू ने उठाए सवाल, कही ये बात
जनता के मुद्दों से तेजस्‍वी की इस दूरी को लेकर एनडीए हमलावर रहा है। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के विधायक निजिन नवीन ने कहा कि तेजस्‍वी की न तो परिवार को, न ही पार्टी को खबर है। अब ताे उनके लापता होने की सूचना देनी चाहिए।
जनता दल यूनाईटेड (JDU) के राष्‍ट्रीय महासचिव केसी त्‍यागी (KC Tyagi) ने कहा कि विधानमंडल का सत्र शुरू है और विपक्ष नेतृत्‍वविहीन है। ऐसी उहापोह व अराजगकता की स्थिति उन्‍हाेंने पहली बार देखी है। जेडीयू नेता व मंत्री श्‍याम रजक (Shyam Rajak) ने कहा है कि तेजस्‍वी यादव अपनी जिम्‍मेदारी नहीं निभा रहे। जनता के सवालों को सीकार के समक्ष लाना उनकी जिम्‍मेदारी है। लेकिन केवल वे केवल अपने लोगों व परिवार के लिए जिम्‍मेदारी निभा रहे हैं।
आरजेडी बोला: बीमार थे, आ रहे पटना
शुक्रवार को तेजस्‍वी के पटना पहुंचने की उम्‍मीद थी, लेकिन वे नहीं आए। इसके बाद जब मीडिया ने उनकी मां व विधान परिषद में नेता प्रतिपक्ष राबड़ी देवी से सवाल किया तो वे भड़क गईं। बाद में उन्‍होंने अपनी बात को संभालते हुए कहा कि तेजस्‍वी बैठे नहीं हैं, वे अपना काम कर रहे हैं। इस मामले में आरजेडी सासंद मनोज झा ने कहा तेजस्‍वी को लेकर सवाल उठाने वाले राजनीति का मर्म नहीं समझ रहे। तेजस्‍वी मानसून सत्र में शामिल होंगे।
इसके पहले आरजेडी के प्रधान राष्ट्रीय महासचिव कमर आलम ने कहा कि तेजस्‍वी जल्‍द ही पटना आ रहे हैं। लेकिन तेजस्‍वी आखिर हैं कहा, इसपर उन्‍होंने कुछ नहीं कहा। आरजेडी नेता आलोक मेहता ने कहा कि यह बताना जरूरी नहीं कि तेजस्वी कहां हैं। ऐसे सवाल सिर्फ गंभीर मसलों को हल्का करने के लिए ही उठाए जाते हैं। पार्टी के प्रदेश अध्‍यक्ष रामचंद्र पूर्वे ने कहा कि तेजस्वी का मार्गदर्शन लगातार प्राप्त होता रहा है। आरजेडी नेता भाई वीरेंद्र ने बताया कि तेजस्‍वी की तबीयत खराब थी, अब ठीक होकर वे वापस आ रहे हैं। वे मुजफ्फरपुर जाकर एईएस के ममाले को भी देखेंगे।
आरजेडी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक में रहेंगे शामिल
आरजेडी राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक छह जुलाई को पटना में होगी, जिसमें लोकसभा चुनाव परिणामों की समीक्षा की जाएगी। साथ ही आगामी विधानसभा चुनाव की रणनीति पर भी चर्चा होगी। इसमें भी तेजस्‍वी मौजूद रहेंगे।
पार्टी उठाएगी एईएस व कानून-व्यवस्था के मामले
विधानमंडल के सत्र में पार्टी कानून-व्यवस्था की खराब स्थिति तथा मुजफ्फरपुर में इंसेफेलाइटिस से बड़े पैमाने पर मौत के मामले प्रमुखता से उठा रही है। पार्टी के राष्ट्रीय प्रधान महासचिव सह विधान पार्षद एसएम कमर आलम ने बताया कि आरजेडी इन मुद्दों पर राज्यपाल को ज्ञापन सौंपकर हस्तक्षेप की भी मांग करेगा। उन्‍होंने बताया कि पार्टी के नेताओं ने ही सबसे पहले मुजफ्फरपुर पहुंचकर वहां की स्थिति देखी और जिलाधिकारी को ज्ञापन दिया था।

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस