पटना, जेएनएन। Corona Lockdown Bihar: कोरोना (CoronaVirus) संक्रमण के संकट काल में लागू लॉकडाउन (Lockdown) के बीच चुनावी रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant Kishor) पर कार्गो विमान (Cargo Filght) से पश्चिम बंगाल (West Bengal) जाने का आरोप लगा है। आरोप है कि मुख्‍यमंत्री (CM) ममता बनर्जी (दीदी) ने उन्‍हें कोरोना से निबटने में विफलता को लेकर भारतीय जनता पार्टी (BJP) की आलोचना का जवाब देने के लिए बुलाया है। लॉकडाउन के इस उल्‍लंघन पर बिहार में राजनीति (Politics) गर्म हो गई है। जनता दल यूनाइटेड (JDU) व भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने उन्‍हें निशाने पर लिया है। इस मामले में प्रशांत किशोर ने अभी तक कोई प्रतिक्रिया नहीं दी है।

बीजेपी बोली: यह वक्‍त झूठे इमेज मेकओवर का नहीं

बीजेपी के प्रवक्‍ता निखिल आनंद (Nikhil Anand) ने इस मुद्दे पर ट्वीट (Tweet) किया है। उन्‍होंने लिखा है कि पश्चिम बंगाल की सरकार कोरोना के खिलाफ लड़ाई में पूरी तरह असफल है। प्रशांत किशाेर के लिए आपत्तिजनक भाषा का प्रयोग करते हुए उन्‍होंने लिखा है कि वे कार्गो फ्लाइट में छुप कर दिल्ली से कोलकाता गए। यह वक्त मेडिकल एक्सपर्ट, एवं शासन-प्रशासन से विशेषज्ञ लोगों को कमान देने का है, झूठा इमेज मेकओवर का नहीं।

पूछा: पीके को क्‍यों बुलाया, वे किस चीज के एक्‍सपर्ट?

एक अन्‍य ट्वीट में उन्‍होंने लिखा है कि कोरोना के मद में केंद्र से मिले सहयोग का पश्चिम बंगाल सरकार उपयोग नहीं कर पा रही है। कार्गो विमान से कोलकाता बुलाए गए प्रशांत किशोर (PK) को लेकर उन्‍होंने मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banarjee) से सवाल किया है कि आखिर वे किस चीज के एक्‍सपर्ट हैं?  उन्‍होंने यह भी लिखा है कि केंद्र व राज्य सरकार के स्वास्थ्यकर्मियों तथा शासन-प्रशासन व पुलिस पर भरोसा नहीं करना उनका अपमान है।

जेडीयू नेता का तंज: चेहरा चमकाना है तो पार्लर जाइए

जेडीयू नेता अजय आलोक (Ajay Alok) ने पश्चिम बगाल की मुख्‍यमंत्री ममता बनर्जी पर तंज कसते हुए कहा कि इस पृथ्‍वी पर एक से एक “दुर्लभ मूर्ख “ हैं। आपदा की बड़ी में डॉक्‍टर, नर्स, पारामेडिकल स्‍टाफ, मास्क, सैनिटाइजर, वेंटिलेटर और अन्य समान कार्गो विमान से मंगवाते हैं। अजय आलोक ने ममत बनर्जी के लिए आगे लिखा है कि उन्‍होंने इतना भारी समान (प्रशांत किशोर) मंगवाया। उन्‍होंने तंज कसा कि चेहरा चमकाना है तो पार्लर जाइए, लेकिन वो भी बंद हैं शायद।

कहा- रास्‍ते में बिहार में ही कूद जाते प्रशांत किशोर

अजय आलोक ने सवाल उठाया है कि कार्गो प्लेन से जरूरी सामान जाते हैं, उसमें प्रशांत किशोर कैसे गए? वे इमेज मेकओवर करते हुए ब्यूटीशियन भी बन गए हैं। ममता बनर्जी का चेहरा चमकाने कोलकाता गए हैं या कोरोना फैलाने?  उन्‍होंने बिहार में डेढ़ लाख लोगों को खाना खिलाने की बात कही थी, उन्‍हें तो रास्‍ते में ही पैराशूट से बिहार कूद जाना चाहिए था। 

 

Posted By: Amit Alok

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस